Saubhagya Yojana hindi
Saubhagya Yojana hindi
Advertisement

प्रधानमंत्री सहज हर घर बिजली योजना जैसा कि इसके नाम से पता चलता है, कि इसका लक्ष्य देश के हर घर तक बिजली पहुँचाना है। बस बिजली पहुँचाना ही नहीं है , बल्कि सरलता के साथ लोगों को इसे उपलब्ध कराना भी है। क्योंकि हमारे देश में आज भी बहुत सारी जगहें ऐसी भी है, जहाँ आज तक बिजली पहुँच ही नहीं पायी है, लेकिन अगर पहुंची है तो फिर लोग आर्थिक क्षमता के कारण बिजली का कनेक्शन नहीं ले पाते है।

प्रधानमंत्री सहज हर घर बिजली योजना को सौभाग्य बिजली योजना Saubhagya Yojna के नाम से भी जाना जाता है ?

Advertisement

इसी कारण वो अपना जीवन अंधेरे में गुज़ारने को मजबूर है। इस वजह से ये योजना अस्तित्व में आयी। इस योजना को सौभाग्य योजना के नाम से भी जाना जाता है। आज हम आपको इस लेख मे इसी योजना के बारे मे संपूर्ण जानकारी देने वाले है, ताकि देश के ज्यादा से ज्यादा नागरिकों को इस योजना के बारे मे पता चल सके। वे इसका लाभ उठा सके।

अगर आप इस योजना के बारे मे संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो लेख को पूरा पढे। इस लेख मे हम आपको बताने वाले है कि प्रधानमंत्री सहज हर घर बिजली योजना क्या है ? सौभाग्य योजना बिजली कनेक्शन कैसे ले Saubhagya Yojana , सौभाग्य योजना क्या है Saubhagya Yojna kya hai इत्यादि।

योजना का विवरण : –

योजना का नाम प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना
इनके द्वारा शुरू की गयीप्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा
योजना लॉन्च की तारीख25 सितम्बर 2017
योजना के लाभार्थी देश के गरीब परिवार
योजना का उद्देश्य गरीब लोगो को मुफ्त में बिजली कनेक्शन देना
आवेदन का तरीकाऑनलाइन

योजना के बारे मे : –

इस प्रोजेक्ट की शुरुआत प्रधानमंत्री जी द्वारा 2017 में की गयी थी. तब इसका लक्ष्य 2018 तक देश के हर घर में बिजली पहुंचने का था।

यह योजना देश के गरीब वर्ग को केंद्र में रखकर बनायीं गयी थी। क्योंकि इस योजना का लक्ष्य देश के हर उस गरीब के घर तक बिजली पहुंचाने का है जो इसका खर्च वहन नहीं कर सकता है।

इस योजना के तहत मुफ्त कनेक्शन प्रदान किये जाएंगे इसके अलावा लोगों को एक LED बल्ब भी दिया जाएगा , साथ ही मीटर भी मिलेगा। जिसकी देखभाल और रखरखाव की ज़िम्मेदारी 5 साल तक सरकार की है। जिन क्षेत्रों में अभी तक बिजली नहीं पहुंची है , वहां सोलर पेनल और 5 LED बल्ब, एक डीसी पंखा और डीसी पावर प्लग दिया जायेगा।

प्रधानमंत्री सहज हर घर बिजली योजना का बजट

सौभाग्य बिजली योजना saubhagya yojana की कुल लागत 16320 करोड़ रुपए है। इसमें से केंद्र सरकार 12320 करोड़ रुपए का सकल बजट सहयोग प्रदान करेगी। ग्रामीण क्षेत्रों के लिए योजना की कुल लागत 14025 करोड़ रुपए है। जिसमे सकल बजट सहयोग 10587 करोड़ रुपए है।

शहरी इलाक़ो के लिए इस योजना का बजट 2295 करोड़ रुपए है। इसमें सकल बजट सहयोग 1732 करोड़ रुपए है। इस योजना के तहत केंद्र सरकार केंद्रशासित प्रदेशों और राज्य सरकार को सहायता प्रदान करेगी।

प्रधानमंत्री सहज हर घर बिजली योजना का उद्देश्य

  • इस योजना का प्रमुख उद्देश्य हर घर तक बिजली पहुँचाना है, ताकि सभी लोग अपना जीवन सुविधाजनक व्यतीत कर सके।
  • ग्रामीण इलाक़ो में शैक्षणिक सेवाओं में सुधार करना। क्योंकि बिजली की व्यवस्था न होने के कारण बच्चों को पढ़ाई करने मे परेशानी होती है।
  • स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार और ग्रामीण क्षेत्रों में कम्युनिकेशन सेवाओं में सुधार करना।

प्रधानमंत्री सहज हर घर बिजली योजना के महत्वपूर्ण तथ्य : –

  • ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली की आपूर्ति की लागत काफी अधिक होती है | इस योजना का मकसद इस लागत को कम करना है।
  • इससे पहले जितनी भी योजनाएँ विधुत आपूर्ति कराने को लेकर शुरू हुई थी, उन सभी को इस योजना मे समाहित कर दिया गया है।
  • इस योजना के बाद से बहुत ही कम गांव ऐसे बचे है । जहां 100 %विधुतीकरण नहीं हुआ है।
  • ग्रामीण विद्युतकरण निगम इसकी नोडल एजेंसी है।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना से लोन कैसे ले पूरी जानकारी हिन्दी मे

सौभाग्य योजना Saubhagya Yojana से अपेक्षा है : –

  • इस योजना का पहला लाभ तो यही है , कि हर उस घर तक बिजली पहुँचेगी जहां नहीं थी | इसके अलावा और भी बहुत से फायदे है इस योजना के उन पर एक संक्षिप्त नज़र डालते है।
  • शैक्षणिक गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी।
  • स्वास्थ्य सेवाएं बेहतर होगी।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में कम्युनिकेशन सुविधाएँ बेहतर होगी।
  • आर्थिक गतिविधियों में वृद्धि होगी।
  • रोज़गार के नए अवसर प्राप्त होंगे।

इसे भी पढे : – स्टार्टअप इंडिया क्या है।

सौभाग्य योजना Saubhagya Yojana के तहत लाभान्वित क्षेत्र : –

बिहारउत्तर प्रदेशमध्य प्रदेशझारखंड
उड़ीसाजम्मू कश्मीरराजस्थानपूर्वोत्तर भारत के राज्य

प्रधानमत्री सहज हर घर बिजली योजना के पात्र : –

सौभाग्य बिजली योजना saubhagya yojana की शुरुआत इसलिए की गयी थी। ताकि जो लोग आर्थिक रूप से अक्षम है | वो भी बिजली का उपयोग कर सके, यानि कि जो लोग आर्थिक रूप से असक्षम है, गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करते है वो इस योजना के मुख्य लाभार्थी होंगे।

इसे भी जरूर पढे :- स्वर्ण मुद्रीकरण योजना क्या है |

जिनके पास बीपीएल का राशन कार्ड है, वो इस योजना का लाभ उठा सकते है या फिर जिनका नाम 2011 के आर्थिक सामाजिक और जातिगत जनगणना के अंतर्गत जिनका नाम है , वो इस योजना के लाभार्थी है | जिनका नाम इन जनगणना के आकड़ों के अंतर्गत नहीं है, वो भी इस योजना का फायदा उठा सकते है। उन्हें बस 500 रुपए में इस योजना के अंतर्गत नया कनेक्शन मिलेगा वो भी 10 आसान किश्तों में।

योजना के दस्तावेज़

  • आवेदक का आधार कार्ड ( अगर आपने आधार कार्ड नहीं बनवाया है तो आवेदन करे )
  • पेन कार्ड
  • एड्रैस प्रूफ यानि कि अपने घर के पते वाला कोई प्रूफ
  • मोबाइल नंबर
  • निवास प्रमाण पत्र
  • वोटर आईडी कार्ड ( नया वोटर आईडी कार्ड बनवाने के लिए आवेदन करे | )
  • पासपोर्ट साइज फोटो

दीनदयाल उपाध्याय कौशल्य ग्रामीण योजना के बारे मे भी जानकारी प्राप्त करे |

आवेदन कैसे करे

  • इस योजना में कनेक्शन लेने के लिए आपको आवेदन का फॉर्म भर कर संबंधित डिविजन या सब डिविजन में आवेदन करना होगा | आवेदन फॉर्म के साथ आपको आधार कार्ड , पासपोर्ट साइज फोटो, मकान के कागज और BPL राशन कार्ड की छाया प्रति संग्लन करनी होगी।
  • उसके बाद उस क्षेत्र की स्थानीय शासन इकाई चाहे वो ग्राम पंचायत हो , नगर पंचायत हो , नगर पालिका हो या फिर नगर निगम वह इनका सत्यापन करेगी। सत्यापन के बाद आपको बिजली का कनेक्शन मिल जाएगा।
  • अगर किसी गरीब व्यक्ति का नाम जनगणना सूची मे नहीं है तो उसे बिजली कनेक्शन लेने के लिए 500 रुपये जमा करने होंगे वो चाहे तो उन पैसों को दस किस्तों मे भी चुका सकता है।
  • आवेदन करने के लिए आप ऑनलाइन तरीके से भी आवेदन कर सकते है । उसके लिए आपको इस योजना की ऑफिसियल वेबसाइट को ओपन करना होगा।

इसे भी जरूर पढे :- फास्टैग क्या है ?

योजना से जुड़े कुछ सवाल जवाब जो लोगों को परेशान करते है :-

1. क्या इस योजना का फायदा केवल ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को ही मिलेगा ?

उत्तर : – नहीं , यह योजना ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों के लिए लागू की गई है ।

2. अगर मेरे पर बीपीएल कार्ड नहीं है , तो क्या मे इस योजना का लाभ उठ सकूँगा ?

उत्तर : – नहीं , ऐसा नहीं है , अगर आपके पास वोटर आईडी कार्ड है , तो आप 2011 की जनगणना के आंकड़ों के आधार पर इस योजना का लाभ उठा सकते हो।

3. क्या इस योजना के तहत लगे मीटरों पर बिल चुकाना होगा ?

उत्तर :- नहीं , जो कनेक्शन गरीबी रेखा से नीचे तय किये गए है , उन पर लोगों को बिल का भुगतान नहीं करना होगा।

4. हमारे गाँव मे बिजली ही नहीं है , तो हमे इस योजन का फायदा कैसे मिलेगा ?

उत्तर :- इसमे कोई चिंता की बात नहीं है , क्योंकि इस तरह के गाँवों मे सरकार सोलर पेनल की सुविधा देती है | साथ ही साथ 5 एलईडी बल्ब एक डीसी पंखा और डीसी पावर प्लग दिया जाता है।

5. हमारा नाम तो 2011 की जनगणना के आंकड़ों मे ही नहीं है , तो क्या हमे इस योजन का लाभ नहीं मिलेगा ?

उत्तर : – आपको चिंता करने की आवश्यकता नहीं है , क्योंकि अगर आपका नाम जनगणना के आकड़ों की सूची नहीं है। तो आप 500 रुपये देकर इस योजना का लाभ उठा सकते है।

निष्कर्ष

दोस्तों इस लेख मे हमने आपको केंद्र सरकार द्वारा गरीब लोगों की बिजली आपूर्ति के लिए शुरू की गई योजना के बारे मे बताया है, ताकि देश के सभी लोगों को पता चल सके कि इस योजना का लाभ कैसे लिया जाता है।

इसे भी जरूर पढे : – प्रधानमंत्री कुसुम योजना

अगर आप इस योजना के बारे मे पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहता है। तो लेख मे अंत तक पढे ? इस लेख मे हमने आपको बताया है कि प्रधानमंत्री सहज हर घर बिजली योजना क्या है ? सौभाग्य बिजली योजना क्या है ? Saubhagya Yojana kya hai इत्यादि

अगर आपको हमारी ये जानकारी पसंद आई है तो आप अपनी राय हमे कमेन्ट बॉक्स मे बता सकते है और इस जानकारी को दूसरे लोगों के साथ भी शेयर करे ताकि उन्हे भी इस योजना के बारे मे पता चल सके। अगर इस योजना को लेकर आपका किसी प्रकार का सवाल है, तो आप अपने सवाल हमसे कमेन्ट बॉक्स मे पूछ सकते है। धन्यवाद


Join our Subscriber lists to get the latest news,updates and special offers delivered directly in your inbox

संवदाता लाता है आपके लिए वो सारी खबरे जो प्रमुख मीडिया मे नहीं दिखती है | संवदाता आपको केंद्र और राज्य सरकारों प्राधिकरण / बोर्ड / अधिकारियों द्वारा शुरू की गई विभिन्न योजनाओं के बारे में नवीनतम जानकारी दे रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here