Chirag Yojana Haryana
Chirag Yojana Haryana
Advertisement

हरियाणा सरकार ने हाल ही में राज्य के आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के बच्चों को सभी मूलभूत सुविधाओ के साथ निजी स्कूलों में पढ़ने का मौका मिलेगा। योजना को लेकर हरियाणा के शिक्षक और अभिभावक अपना विरोध प्रकट कर रहे हैं।

इनका कहना हैं की इस योजना से भविष्य में सरकारी स्कूलों और गरीब अभिभावको को भारी नुकसान होगा।

Advertisement

अगर आप इस योजना के बारें ने अच्छे से समझना चाहते हैं तो लेख को अंत तक पढ़ें। इस लेख में हम आपको योजना के बारें में विस्तार से बताने वाले हैं।

इस लेख में हम आपको बताने वाले हैं की चिराग योजना क्या हैं। इस योजना के क्या फायदे क्या नुकसान हैं।

योजना का विवरण

योजना का नाम हरियाणा चिराग योजना
राज्य हरियाणा
योजना किसने लागू की हरियाणा शिक्षा विभाग मुख्यमंत्री
लाभार्थी हरियाणा के आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थी
उद्देश्य गरीब बच्चों को शिक्षा प्रदान करना

चिराग योजना Chirag Yojana Haryana

हरियाणा सरकार ने नए शिक्षा सत्र में नियम-134ए को खत्म करके चिराग योजना की शुरुआत की हैं। जिसके तहत अगर किसी गरीब परिवार की आय 1.80 लाख रुपये से कम हैं। तो ऐसे बच्चों को निजी स्कूल में फ्री पढ़ाई करने का मौका मिलेगा।

इन बच्चों की फीस सरकार के द्वारा निजी स्कूलों की प्रदान की जाएगी। योजना के तहत सरकार का उदेश्य राज्य के गरीब परिवार के बच्चों में प्राइवेट स्कूलों में पढ़ाई करवाना हैं ताकि उन्हे भी अच्छी शिक्षा मिल सकें।

चिराग योजना के प्रथम चरण में लगभग 25 हजार छात्रों को निजी स्कूलों में मुफ़्त शिक्षा प्रदान की जाएगी। सरकार ने राज्य के निजी स्कूलों को भी इस योजना के तहत दाखिलो की अनुमित दें दी हैं। योजना का लाभ केवल हरियाणा के स्थायी निवासी परिवारों के बच्चों को ही मिलेगा। राज्य की गरीब लड़कियों की शादी मे आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए हरियाणा सरकार ने शुरू की हरियाणा कन्यादान योजना

चिराग योजना हरियाणा 2022 फ़ायदे

  1. Chirag Yojana Haryana की मदद से हरियाणा के गरीब परिवारों के बच्चे भी अब निजी स्कूलों में पढ़ाई करके अच्छी शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे।
  2. जो लोग पैसों की कमी के चलते अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में पढ़ाने को मजबूर हैं। अब वे भी अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने के लिए भेज सकेंगे वो भी बिल्कुल फ्री में।
  3. प्राइवेट स्कूल में पढ़ाई करने के बाद अब बच्चों की शिक्षा का स्तर भी बढ़ेगा।

इसे भी जरूर पढे :- ग्रामीण क्षेत्रों मे रहने वाले लोगों को डिजिटल साक्षर बनाने के लिए केंद्र सरकार ने शुरू किया प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान

चिराग योजना के पात्र और जरूरी दस्तावेज

  • इस योजना का लाभ केवल उन्ही गरीब परिवार के छात्रों को मिलेगा। जिनकी वार्षिक आय 1.80 लाख रुपये से कम हैं।
  • योजना के तहत कक्षा दो से बारहवी तक के छात्र निजी स्कूलों में दाखिला लें सकते हैं।
  • छात्र का पासपोर्ट फोटो
    छात्र का आधार कार्ड
  • बर्थ सर्टिफिकेट
  • परिवार का आय प्रमाण पत्र

चिराग योजना से स्कूल में दाखिला कैसे लें

Chirag Yojana Haryana 2022 के तहत निजी स्कूलों में दाखिला लेने के लिए छात्रों के पास ऊपर बताएं गए दस्तावेज होने चाहिए।

प्रवेश उस निजी स्कूल तक ही सीमित है जिसका नाम प्रपत्र 6 के निर्देशों पर अंकित है।

यदि छात्र को उसके पिछले स्कूल द्वारा सुझाव दिया जाता है, तो प्रवेश केवल तभी दिया जा सकता है जब वे डेटा मिस्ट पोर्टल पर अपनी जानकारी अपडेट करते हैं। प्रधानमंत्री ई विद्या योजना क्या है।

योजना का विरोध क्यों ही रहा हैं।

हरियाणा के शिक्षक और अभिभावक Chirag Yojana Haryana के खिलाफ विरोध इसलिए कर रहे हैं।

उनका कहना हैं की सरकार अब निजी स्कूलों को बढ़ावा देकर सरकारी स्कूलों को खत्म करना चाहते हैं। योजना के शुरू होने के बाद सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले सभी बच्चे निजी स्कूलों में शिफ्ट हो जायेगे।

जिसके कारण एक समय ऐसा आएगा जब सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाला कोई नहीं होगा। सरकारी स्कूलों हमेशा के लिए बंद हो जायेगे। इसलिए इस योजना का विरोध भी किया जा रहा हैं। इसे भी जरूर पढे :- हरियाणा परिवार पहचान पत्र कैसे बनवाए ।

इस योजना की घोषणा तो हरियाणा सरकार के द्वारा की जा चुकी हैं लेकिन इसे भारी विरोध के बीच कैसे लागू किया जाएगा अब ये देखना होगा। योजना से जुड़ा हुआ जैसे ही कोई नया अपडेट आएगा हम आपको जल्द ही सूचना देंगे।

Join our Subscriber lists to get the latest news,updates and special offers delivered directly in your inbox

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here