राशन कार्ड कैसे बनवाए
राशन कार्ड कैसे बनवाए
Advertisement

भारत में रहने वाले प्रत्येक नागरिक के लिए राशन कार्ड एक आवश्यक और महत्वपूर्ण दस्तावेज है। यह राज्य सरकार द्वारा सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अनुसार अपने नागरिको को जारी किया जाता है। राशन कार्ड या राशन स्टांप सरकार के द्वारा जारी किया गया पहचान पत्र की तरह ही एक प्रकार का कार्ड है।

इस लेख मे हम राशन कार्ड से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारी शेयर करने वाले है है अगर आप भी राशन कार्ड के बारे मे सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो लेख को अंत तक पढे।

Advertisement

इस लेख मे हम आपको बताने वाले है कि राशन कार्ड क्या है rashan card kya hai  राशन कार्ड कैसे बनवाए |rashan card kaise banwaye  राशन कार्ड बनवाना क्यों जरूरी है राशन कार्ड के क्या फायदा है ration card ke fayde राशन कार्ड कितने प्रकार के होते है ration card kitne prakar ke hote hain

इस कार्ड का इस्तेमाल भारतीय नागरिक सरकार से खाने के राशन या अन्य सामान प्राप्त करने के लिए करते है। सरकार के द्वारा राशन कार्ड के माध्यम से नागरिको को दिया गया  राशन बहुत ही कम मूल्य पर दिया जाता है।

राशन कार्ड क्या हैं ?

राशन कार्ड भी पहचान पत्र की तरह का एक भारतीय दस्तावेज है। जिसे देश की प्रत्येक राज्य शासन द्वारा लागू किया जाता है| राशन कार्ड का मुख्य उपयोग सरकारी राशन वाली दुकानों से सही या कम मूल्य से आवश्यक सामान खरीदने के लिए किया जाता है।

सरकार के द्वारा राशन कार्ड भी कई प्रकार के बनाये जाते है, जैसे गरीबी रेखा के नीचे वाला राशन कार्ड, गरीबी रेखा के ऊपर वालो के लिए राशन कार्ड, अंत्योदय परिवार के लिए राशन कार्ड और सरकार द्वारा कुछ समय के अंतराल में इन सभी राशन कार्ड को चेक किया जाता है।

इसे भी पढे :- असली और नकली आधार कर की पहचान कैसे करे

राशन कार्ड के बारे में कुछ जरूरी बातें 

  • अगर हम इसको और आसान भाषा में कहे तो इस कार्ड के द्वारा उन गरीब लोगों को खाने का राशन दिया जाता है | जिनके पास कोई कमाने वाला नहीं है  और न ही रोजगार की सुविधा उपलब्ध है , ताकि देश में रहने वाला कोई भी नागरिक भूखा न सोये।
  • सरकार जल्द ही  वन नेशन वन राशन कार्ड की सुविधा जल्द ही लांच  वाली है। जिससे देश के अंदर रहने वाले प्रत्येक नागरिक एक राशन कार्ड को ही सभी स्टेट में इस्तेमाल कर सकेंगे।
  • राशन कार्ड भारत में रहने वाले नागरिको के लिए एक महत्वपूर्ण पत्र है। जिसके  माध्यम से कोई भी नागरिक बहुत ही कम मूल्य पर सामान तो खरीद ही सकता है, इसके अलावा इस कार्ड का इस्तेमाल एक पहचान पत्र के रूप में भी कर सकता है। 
  • बदलते हुए समय के साथ साथ राशन कार्ड एक जरूरी पहचान पत्र बनता जा रहा है। अगर कोई व्यक्ति अपना मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाना चाहता है, तो उसे पहचान पत्र के रूप में राशन कार्ड की डुप्लीकेट कॉपी जमा करनी होती है।
  • जो परिवार गरीबी रेखा के नीचे होते है। सरकार द्वारा उनके लिए स्पेशल ब्लू राशन कार्ड बनाए जाते है | ताकि उन्हें खाने का राशन फ्री बराबर मिल सके।
  • परमानेंट राशन कार्ड के अलावा सरकार के द्वारा टेम्परेरी राशन कार्ड भी बनाया जाता है,| जिसका उपयोग कुछ समय के लिए ही होता है।

इसे भी जरू पढे :- वोटर आईडी कार्ड कैसे बनवाए

राशन कार्ड कितने प्रकार के होते है ?

राशन कार्ड को भारत की राज्य सरकार के द्वारा जारी किया जाता है | इन कॉर्ड्स को भी नागरिक के कैटेगेरी के अनुसार अलग अलग भागों में बाँटा गया है।

जैसे कि APL (गरीबी रेखा के ऊपर), BPL (गरीबी रेखा से नीचे), उच्च आय वाले लोगों के लिए और अन्त्योदय परिवारों की जरुरत के अनुसार. भारत में तीन प्रकार के राशन कार्ड उपलब्ध हैं : –

  • अन्त्योदय राशन कार्ड – इस कार्ड को देश के सबसे गरीब परिवारों के लिए बनाया गया है | जिनकी कोई स्थिर आय ना हो| अधिक उम्र वाले लोग, बेरोजगार लोग और इस श्रेणी में लेबर लोग आते है. इस कार्ड की पहचान पीले रंग से की जाती है |
  • बीपीएल  राशन कार्ड – इस कार्ड को गरीबी रेखा से नीचे वाले लोगो के लिए बनाया गया है| जिनकी सालाना आय 10,000 रूपये से कम है । वे  बी-पीएल राशन कार्ड प्राप्त कर सकते है। इस कार्ड को तीन रंगो में जारी किया जाता है  नीला , गुलाबी या लाल रंग।
  • एपीएल राशन कार्ड – यह कार्ड ग़रीबों रेखा के ऊपर आने वाले लोगों के लिए हैं| इस श्रेणी में देश का कोई भी नागरिक आवेदन कर सकता है। इसके लिए कोई आय की सीमा निर्धारित नहीं की गई है |इस कार्ड को नारंगी रंग में जारी किया जाता है।

इसे भी जरूर पढे : – पेन कार्ड कैसे बनवाए

भारत में राशन कार्ड के फ़ायदे

  • भारत में प्रत्येक परिवार के लिए राशन कार्ड एक बहुत महत्वपूर्ण दस्तावेज़ है | इसके अलावा राशन कार्ड, पहचान के साथ ही निवासी का एक ठोस सबूत भी है.| जो यह बताता है , कि यह नागरिक इस देश का है।
  • राशन का सबसे अहम योगदान राज्य या केंद्र सरकार से सब्सिडी दर पर आवश्यक वस्तुएं  प्राप्त करने के लिए  किया जाता है।
  • यदि आप कभी भी वोटर आई-डी कार्ड यानि की पहचान पत्र के लिए आवेदन करना चाहते है, तो आप राशन कार्ड की डुप्लीकेट कॉपी पहचान पत्र आई-डी या रहने के स्थान के प्रूफ के रूप दिखा सकते है।
  • राशन कार्ड की डुप्लीकेट कॉपी टेलीफोन कनेक्शन या सिम कार्ड लेने के लिए भी मान्य है।
  • आप ड्राइविंग लाइसेंस  का आवेदन करने के लिए भी  राशन कार्ड को पहचान पत्र आई-डी के रूप में  उपयोग कर सकते है।
  • यदि आप पैन कार्ड के लिए भी आवेदन करते है तो आप अपने पते के पहचान  के रूप में इसका  उपयोग कर सकते है।  
  • इसके अलावा आप एलपीजी गैस कनेक्शन,  पासपोर्ट, आधार कार्ड , इत्यादि का आवेदन करने के लिए भी आप राशन कार्ड का इस्तेमाल कर सकते है।

इसे भी पढे :- डिजिटल गोल्ड क्या है ?

राशन कार्ड का आवेदन करने के लिए जरूरी दस्तावेज़

राशन कार्ड को स्थायी राशन कार्ड या घरेलू उपभोक्ता कार्ड भी कहा जाता है| यदि आप अपनी राज्य सरकार से राशन कार्ड प्राप्त करने के लिए आवेदन करना चाहते है तो आपको आवेदन पत्र भरने  के साथ साथ निम्नलिखित दस्तावेज़ों किसी एक दस्तावेज़ को पहचान पत्र के रूप में दिखाना अनिवार्य है तभी आप अपना राशन कार्ड बनवाने के लिए आवेदन कर सकोगे।

  • वोटर आई-डी
  • परिवार के मुखिया के नाम पर बिजली का बिल
  • सार्वजनिक स्वास्थ्य विभाग/ जारी-कर्ता प्राधिकरण द्वारा जारी किये गये पानी का बिल
  • परिवार रजिस्टर में उल्लेखित नाम की प्रति
  • आधार कार्ड की प्रतिलिपि
  • टेलीफोन का बिल
  • इन सभी के अलावा कोई ऐसा दस्तावेज जो भारत सरका के द्वारा जारी किया गया हो |

पैसे कमान चाहते है तो इसे जरूर पढे :- म्यूचुअल फंड मे निवेश कैसे करे ?

राशन कार्ड आवेदन करने के लिए कुछ जरूरी शर्तें

  • राशन कार्ड आवेदन करने के लिए व्यक्ति का भारत का नागरिक होना जरूरी है | तभी आवेदन करने  के पात्र माने जाओगे .
  • राशन कार्ड का आवेदन करते समय व्यक्ति के पास किसी अन्य राज्य का राशन कार्ड नहीं होना चाहिए।  
  • आप परिवार में जिस भी व्यक्ति के नाम पर राशन कार्ड बनवाना चाहते है |  उसकी आयु  18 वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए |
  • 18 साल से कम उम्र के बच्चों का नाम माता-पिता के राशन कार्ड में शामिल किया जाता है|
  • एक परिवार में परिवार के मुखिया के नाम पर एक ही  राशन कार्ड मान्य होता है |
  • आप राशन कार्ड में जिस  भी सदस्यों को शामिल करना चाहते है तो ,उनका परिवार के मुखिया से नजदीकी संबंध होना जरूरी है|
  • नए राशन कार्ड के लिए आवेदन करते समय किसी भी सदस्य का नाम उससे पहले किसी भी राशन कार्ड में नहीं होना चाहिए|

राशन कार्ड का आवेदन कैसे करे |

इसे भी जरूर पढे :- फास्टैग क्या है ?

  • आज कल प्रत्येक शहरों में जगह जगह पर जन सुविधा केंद्र खुले हुए है | जहा पर आप किसी भी प्रकार का सरकारी दस्तावेज प्राप्त करने के लिए आवेदन कर सकते है | वहां से आप  राशन कार्ड के फॉर्म खरीद सकते है | 
  • इन फार्म को कोई भी व्यक्ति खरीद सकता है| इन फॉर्म का मूल्य 50 पैसे होता है तथा गरीबी रेखा के नीचे वालो के लिए यह फ्री होता है|
  • अगर कोई व्यक्ति चाहे तो वह इसे सरकारी वेबसाइट से भी प्राप्त कर सकता है. इसके लिए अलग अलग राज्यों के लिए अपनी वेबसाइट बनी हुई है | वेबसाइट  से फॉर्म डाउनलोड करके आप उसका प्रिंट भी निकालवा सकते है | 
  • राशन कार्ड का फॉर्म भरने के बाद उसे जमा करते समय फार्म के साथ साथ परिवार के मुखिया की 3 पासपोर्ट साइज़ फोटो लगानी जरूरी है  यह फोटो सरकारी कर्मचारी द्वारा अटैस्टेड हो या व्यक्ति चाहे , तो इसे किसी भी व्यक्ति जिसे अटैस्टेड करने का अधिकार हो अटेस्टेड करवा सकता है |
  • मुखिया की फोटो के साथ साथ आपके घर का रेसिडेन्शियल प्रूफ देना पड़ता है  | अगर आपके  पास खुद का घर नहीं है और आप किसी दूसरे के घर पर किराये के मकान में रहते है तो आपको  रेंट एग्रीमेंट लगाना पड़ेगा |
  • अगर आपके आवेदन करने के लिए अपना रेसिडेंसियल प्रूफ यानि कि आवासीय प्रमाण भी नहीं है | तो आप FSO के द्वारा आपके 2 पड़ोसियों का स्टेटमेंट ले सकते है |  .
  • अगर आप पास कोई पुराना राशन कार्ड भी है तो आप उसकी डुप्लीकेट कॉपी भी लगा सकते है |
  • इन सभी प्रक्रियाओं को पूरा करने के बाद फॉर्म को ऑफिस में जमा करना होता है|
  • फॉर्म जमा करने के 1 महीने के भीतर  आपका राशन कार्ड बनकर तैयार हो जाता है और आप इसे डाक ऑफिस से तहसील के माध्यम से  प्राप्त कर सकते है|

डिजिलॉकर क्या है , फ्री मे इसका फायदा कैसे उठाए |

राशन कार्ड का आवेदन करने के लिए अलग-अलग राज्‍यों की वेबसाइट

राजस्‍थानकर्नाटकमध्‍यप्रदेश
उत्‍तर प्रदेशबिहारउड़ीसा
तमिलनाडूवेस्ट बंगाल छत्‍तीसगढ़
गुजरातदिल्‍लीपंजाब
झारखंडकेरलउत्‍तराखंड
तेलंगानाजम्‍मू & कश्‍मीरआन्‍धप्रदेश

निष्कर्ष

दोस्तों इस लेख मे हमने आपको राशन कार्ड के बारे मे सम्पूर्ण जानकारी दी है कि इस कार्ड को बनवाना देश के प्रत्येक नागरिक के लिए क्यों जरूरी है अगर आपने अभी तक इस कार्ड को नहीं बनवाया है तो आप बनवा ले | इस लेख मे हमने आपको बताया है कि राशन कार्ड क्या है ration card kya hai या राशन कार्ड कैसे बनवाए Rashan Card Kaise Banwaye ? अगर आपको हमारी ये जानकारी पसंद आई है तो आप अपनी राय हमे कमेन्ट बॉक्स मे बता सकते है और इस जानकारी को दूसरे लोगों के साथ भी शेयर करे ताकि उन्हे भी इसके बारे मे पता चल सके | अगर आपका राशन कार्ड को लेकर किसी प्रकार का सवाल है तो आप हमसे कमेन्ट बॉक्स मे पूछ सकते है | धन्यवाद

Join our Subscriber lists to get the latest news,updates and special offers delivered directly in your inbox

संवदाता लाता है आपके लिए वो सारी खबरे जो प्रमुख मीडिया मे नहीं दिखती है | संवदाता आपको केंद्र और राज्य सरकारों प्राधिकरण / बोर्ड / अधिकारियों द्वारा शुरू की गई विभिन्न योजनाओं के बारे में नवीनतम जानकारी दे रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here