Digital Gold Kya Hai
Digital Gold Kya Hai
Advertisement

गोल्ड को दुनिया की महंगी धातुओं मे से एक माना जाता है जिसे खरीदना हर किसी के बस में नहीं है। इसलिए ऐसा माना जाता है, कि सोने को लोग लगभग पिछले तीन हजार से वर्षों से स्टोर करते या रहे है। हमारे देश मे सोने को भगवान का धन भी माना जाता है। यही कारण है कि कई बार इसे खास मौकों पर मंदिरों मे भी चढ़ाया जाता है।

दुनियाभर मे इंडिया की दूसरे नंबर की सबसे बड़ी आबादी है, यही कारण है कि भारत सोने के सबसे बड़ा आयातक देश भी है। यही कारण है कि भारत मे सोने को पहनना लोगों का एक बड़ा सपना होता है। जो हर किसी का पूरा नहीं हो पाता है, लेकिन बदलते समय के अनुसार अब सोना केवल लोगों के पहनने का का सपना ही नहीं रह गया। बल्कि आय का एक साधन भी बन चुका है। जिसमे लोगों के लिए कमाई का एक विकल्प भी है। जिसका फायदा लोग जमकर लेते है।

Advertisement

सोने को निवेश का सबसे सुरक्षित विकल्प माना जाता है और इसमें निवेश करने से लोगों को अच्छे रिटर्न्स भी मिलते है। पहले सोने में निवेश करने के लिए केवल फिजिकल गोल्ड का है विकल्प था. लेकिन अब डिजिटल होती दुनिया मे अब गोल्ड ने भी डिजिटल रूप ले लिया है।

जिसे डिजिटल गोल्ड के नाम से जाना जाता है। आज हम आपको इस लेख मे गोल्ड के इसी रूप के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देने वाले है, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसके बारे मे सही जानकारी मिल सके। इस लेख मे हम आपको बताने वाले है कि डिजिटल गोल्ड क्या है Digital Gold Kya Hai , कोई भी व्यक्ति डिजिटल गोल्ड मे किस प्रकार निवेश कर सकता है।

कुछ वर्षों पहले एक ऐसा समय भी था। जब लोग ज्वैलरी स्टोर्स और सुनार के यहा से से भी सोने को खरीदने के लिए हिचकते थे कि कहीं उन्हें नकली सोना न दे दे और उनके साथ किसी प्रकार का फ्रॉड न हो जाए, लेकिन डिजिटल होती दुनिया ने गोल्ड खरीदने के तरीके को भी पूरी तरह से बदल दिया है। डिजिटल गोल्ड को सबसे ज्यादा पॉपुलैरिटी उस समय मिली जब देश और दुनिया मे कोविड 19 की समस्या थी।

डिजिटल गोल्ड क्या है ? Digital Gold Kya Hai

गोल्ड दुनिया की सबसे महंगी धातुओ में से एक है यही कारण है कि लोग इसे खरीदते समय काफी ध्यान देते है, ताकि कोई उनसे अच्छे रकम लेकर नकली गोल्ड न दे दे, क्योंकि गोल्ड असली हा या नकली इसको पहचानना हर किसी के बस मे नहीं है।

इसलिए गोल्ड को खरीदते समय लोग गोल्ड की सही तरीके से जांच करते है। उसकी शुद्धता की पहचान करते है। फिर उसे सुरक्षित तरीके से रखते है,फिर बहुत से लोग गोल्ड के रेट बढ़ने पर उसे सेल करके अच्छी रकम भी कमाते है तो बहुत से लोग जरूरत पड़ने पर अपने गोल्ड को गिरवी रखकर गोल्ड लोन भी लेते है, ताकि वे अपनी जरूरतों को पूरा कर सके।

अभी पूरी दुनिया कोरोना महामारी से गुजर रही है जिसके कारण लोग अपने घरों से निकलना पसंद नहीं कर रहे है, यही कारण है कि वे ज्वैलरी स्टोर्स या सुनार के पास जाना ठीक नहीं समझते।

कोरोना महामारी को देखते हुए ज्वेलरी स्टोर्स या फिर वित्तीय संबंधी संस्थानों ने अनलाइन गोल्ड खरीदने की इस नई तकनीक को शुरू किया है। जिसे कोई भी प्रसन ऑनलाइन खरीद सकता है।

डिजिटल गोल्ड Digital Gold को ग्राहकों की मांग पर विक्रेता की और से इसका इंसयोरेंस करके स्टोर कर दिया जाता है। इसलिए डिजिटल गोल्ड खरीदते समय आपको उन समस्याओ का सामना नहीं करना पड़ता जो आपको फिजिकल गोल्ड खरीदते समय करना पड़ता है।


डिजिटल गोल्ड खरीदने के लिए आपको सिर्फ मोबाइल ,इंटरनेट और इंटरनेट बैंकिंग / मोबाइल बैंकिंग की जरूरत होती है। उसके बाद आप कही से भी किसी स्थान से डिजिटल गोल्ड ने आसानी से निवेश कर सकते है।

आप डिजिटल गोल्ड Digital Gold मे निवेश करने के लिए कुछ मोबाईल ई वॉलेट का भी इस्तेमाल कर सकते है जैसे कि पेटीएम Paytm , गूगल पे Google Pay , फोन पे Phone Pay ऐमज़ान पे Amazon Pay इत्यादि।

अभी देश में डिजिटल गोल्ड मे निवेश करने के लिए करने के लिए सिर्फ तीन कम्पनीय ही मौजूद है ऑगमोन्ड गोल्ड लिमिटेड , एमएमटीसी-पीएएमपी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, डिजिटल गोल्ड इंडिया प्राइवेट लिमिटेड डिजिटल गोल्ड मे निवेश करने के लिए सेफगोल्ड ब्रांड है।

इसे भी पढे : म्यूचुअल फंड क्या है ? आप इससे किस प्रकार पैसा कमा सकते है

डिजिटल गोल्ड की बढ़ती हुए मांग को देखते हुए अब एचडीएफसी सिक्योरिटीज और मोतीलाल ओसवाल बोरोकर्स भी डिजिटल गोल्ड मे निवेश के विकल्प दे रहे है।

डिजिटल गोल्ड में निवेश करने से पहले कुछ जरूरी बातों का जरूर ध्यान रखें

इसे भी पढे :- मुथूट फाइनेंस गोल्ड लोन क्या है

  1. डिजिटल गोल्ड Digital Gold खरीदने का सबसे बड़ा रिस्क यह है कि अभी इसके लिए सरकार ने कोई नियम या कानून नहीं बनाए है | जब भी कोई पर्सन डिजिटल गोल्ड मे निवेश करता है या खरीदता है, तो गोल्ड निर्माता कस्टमर के नाम से आपकी राशि के अनुसार गोल्ड खरीदता है इस गोल्ड को दूसरी थर्ड पार्टी कॉम्पनी या विक्रेता के पर जमा किया जाता है। सामान्य परिस्थितयो मे यह भी देखा जाता है कि निवेशकों द्वारा खरीदे गए सोने के अनुरूप सोने की मात्रा और शुद्धता सही यही या नहीं लेकिन जिसके पास आपका गोल्ड जमा है, वो गोल्ड की देखरेख सही तरीके से कर रहा है या नहीं उसके लिए अभी कोई नियम नहीं जबकि गोल्ड गोल्ड ईटीएफ के मामलों मे भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड सेबी है और गोल्ड के ब्रांड के लिए भारतीय रिजर्व बैंक नियामक है।

इसे भी पढे : इंडियबुल्स होम लोन कैसे ले

2. डिजिटल गोल्ड मे निवेश करने या खरीदने के लिए आपको फिजिकली गोल्ड खरीदने की तुलना में तीन प्रतिशत माल और सेवा कर टैक्स का भुगतान करना होगा।

3. अगर कोई भी निवेशक डिजिटल गोल्ड खरीदने के लिए फोन का इस्तेमाल कर रहा है, तो आपको स्टोरेज चार्ज का भुगतान करना होगा | लेकिन कुछ ऐसी बातें जो सभी निवेशकों के लिए कंपलसरी है। शुरुआती दो वर्षों तक निवेशकों से कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा लेकिन अगर आपकी खरीद करने की तारीख से पहले दो साल के अंत में गोल्ड की मात्रा 2 ग्राम से कम से है तो प्रति माह 0.05 प्रतिशत का चार्ज चुकाना होगा। लेकिन अगर आप एमएमटीसी-पीएएमपी प्लेटफॉर्म माध्यम से डिजिटल गोल्ड में निवेश करते हो, तो आपको किसी प्रकार का स्टोरेज चार्ज नहीं चुकाना होगा।

इसे भी पढे :- आईसीआईसीआई लोम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस क्या है

4. डिजिटल गोल्ड के माध्यम से अगर आप फिजिकली गोल्ड खरीदते है तो आपको होम डिलीवरी चार्ज भी चुकाना होगा | डिजिटल गोल्ड में निवेश करने वाले निवेशकों के लिए यह विकल्प भी मौजूद है कि अपने डिजिटल गोल्ड को सोने की बार, या सोने के सिक्कों मे बदलवा सकते है, लेकिन सिक्कों में बदलवाने के लिए आपको होम डिलीवरी के अलावा डिजाइन चार्ज भी चुकाना होगा।

5. अभी वर्तमान मे डिजिटल गोल्ड की बिक्री केवल ऑथराइड्ज वेंडर्स या प्रोड्यूसर ही करते है | जिनका बैंकों, ब्रोकिंग फर्म्स या फिनटेक कंपनियों के साथ साझा होता है। ऐसे मे हम समझ सकते है कि ये एक तरह से निवेशक और विक्रेता के बीच मे मेडीएटर / एजेंट का कार्य करते है। इसलिए किसी भी प्लेटफ़ॉर्म मे डिजिटल गोल्ड मे निवेश करने से पहले गोल्ड की शुद्धता, हॉलमार्किंग, रिफंड पॉलिस और वेंडर के बारे में भी पूरी जानकारी प्राप्त कर ले।

इसे भी पढे : गोल्ड लोन क्या है ? इसका फायदा कैसे ले ?

डिजिटल गोल्ड के फायदे

  • डिजिटल गोल्ड Digital Gold में निवेश करते समय आपके गोल्ड की सुरक्षा की जिम्मेदारी कंपनियों की होती है। डिजिटल गोल्ड मे निवेश करने के लिए आप अपने बजट के अनुसार कम से कम बजट में भी निवेश शुरू कर सकते है।
  • डिजिटल गोल्ड में निवेश की गई रकम को आप कभी भी केश के रूप में प्राप्त कर सकते है | या रियल गोल्ड मे भी बदलवा सकते है।
  • डिजिटल गोल्ड और रियल गोल्ड की रियल फिजिकली गोल्ड के रेटों मे किसी प्रकार का अंतर नहीं होता है।
  • गोल्ड रेटों को ध्यान मे रखते हुए आप कभी भी डिजिटल गोल्ड को ऑनलाइन सेल या खरीद सकते है।
  • आज के समय मे डिजिटल गोल्ड मे निवेश करने के लिए बहुत से मोबाइल एप्लीकेशन है जिससे आप आसानी से रोजाना अपने गोल्ड रेटों को देख सकते है।

इसे भी पढे : होम क्रेडिट लोन क्या है इसका लाभ कैसे उठाए ?

निष्कर्ष

इस लेख में हमने आपको निवेश करने के एक नए तरीके के बारे मे बताया है ताकि कोई भी प्रसन आसानी से निवेश करके अच्छी कमाई कर सके। इस लेख में हमने आपको बताया है, कि डिजिटल गोल्ड क्या है? Digital Gold Kya Hai और इसमें डिजिटल गोल्ड निवेश कैसे करें Digital Gold me nivesh kaise kare अगर आपको हमारी ये जानकारी पसंद आई है।

आप अपनी राय हमें कमेंट बॉक्स में जरूरत बताएं। अगर डिजिटल गोल्ड को लेकर आपका किसी प्रकार का सवाल है तो आप हमसे कमेंट करके पूछ सकते है, इस जानकारी को दूसरे लोगों के साथ भी जरूर शेयर करे। धन्यवाद

Join our Subscriber lists to get the latest news,updates and special offers delivered directly in your inbox

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here