Advertisement

आधार कार्ड का उपयोग एक भारतीय पहचान पत्र के तौर पर किया जाता है। जिससे आपके पास भारतीय नागरिकता का सबूत भी मौजूद रहता है। अब आप समझ सकते है कि देश मे रहने के लिए आधार कार्ड कितना जरूरी है। अगर आप भारत मे रहते है और आपको आधार कार्ड के बारे मे पूरी जानकारी नहीं है तो यह लेख आपके लिए बड़ा ही महत्वपूर्ण है।

इस लेख मे हम आपके साथ आधार कार्ड से जुड़ी सभी जानकारी शेयर करने वाले है इस लेख मे हम आपको बताने वाले है कि आधार कार्ड क्या है। aadhar card kya hai आधार कार्ड के फायदे क्या है  aadhar card ke fayde आधार कार्ड कैसे बनवाए नया आधार कार्ड कैसे बनवाए aadhar card kaise banaye

Advertisement

आधार कार्ड का परिचय 

आधार कार्ड Aadhar card की शुरुआत भारत सरकार की संस्था UIDAI (भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण) के द्वारा 2009 में की गई थी। उस समय इस योजना का चेयरमैन इनफ़ोसिस के संस्थापक नंदन नीलेकणी को बनाया गया था।

इस कार्ड का उद्देश्य पूरे देश के अंदर रहने वाले सभी लोगो की जानकारी इखट्टा करना था, ताकि सरकार के पास सभी भारतीय नागरिक की जानकारी मौजूद रहे। सबसे पहले इस योजना की शुरुआत 2010 में महाराष्टा के कुछ ग्रामीण क्षेत्रों में प्रयोग के तौर पर की गई।

आधार कार्ड क्या है ? Aadhar Card Kya Hai

आधार कार्ड प्रत्येक भारतीय की एक यूनिक आईडी होती है। जिस पर एक अलग ही आइडेंटिफिकेशन नंबर लिखा होता है। यह हर भारतीय को एक अलग ही पहचान दिलाता है। आधार कार्ड बनाने की जिम्मेदारी भी UIDAI ( Unique Identification Authority Of India ) को सौंपी गई गई।

 जिसका उद्देश्य देश के अंदर रहने वाले सभी लोगों के आधार कार्ड बनाकर उनका डाटा इकट्ठा करना है , ताकि सरकार को देश के अंदर रहने वाले सभी नागरिकों के बारे में पता रहे है और उन्हें देश के किसी भी नागरिक तक पहुंचने में आसानी हो सके।

आधार कार्ड पर UIDAI की तरफ से एक 12 अंको का नंबर दिया जाता है। उसके अलावा आधार कार्ड पर व्यक्ति का नाम , घर का पता, व्यक्ति की फोटो, फिंगर प्रिंट,आँखों की पुतली के ब्लू प्रिंट, इत्यादि सभी प्रकार की जानकारी मौजूद रहती है।

इसे भी जरूर पढे : राशन कार्ड बनवाना अब हुआ और भी आसान आप भी जल्द ही बनवाए

आधार कार्ड के लाभ 

  • अगर आप मोबाइल फ़ोन का इस्तेमाल करते है ,तो ऐसे में आधार कार्ड की सहायता से मोबाइल सिम से होने वाले गलत कामो को रोकने में सहायता मिलेगी पहले ये होता था कि मोबाइल सिम बेचने वाले बिना आपकी परमिशन के आपके आईडी कार्ड से  से कई चालु कर देते थे और आपको एक सिम देते थे। बाकी की सिम वे गलत कामो को अंजाम देने वाले लोगो को महंगे दामो में बेचते थे। ऐसे में इस आधार कार्ड की सहायता से इस प्रकार के गलत कामो को रोकने में सहायता मिलेगी 
  • आधार कार्ड भारत का एकमात्र ऐसे पहचान पत्र है। जो बड़ो से लेकर छोटे बच्चो का भी बनता है। जिस पर  नाम ,पिताजी का नाम, जन्मतिथि पता अंकित होता है।
  • भारत के सभी सरकारी कामो के लिए आधार कार्ड मान्य है। आधार कार्ड की सहायता से आप बैंक खाता, मोबाइल, एलपीजी कनेक्शन, ट्रेन यात्रा जैसी सेवाओं का लाभ उठा सकते है।
  • अगर आपका आधार कार्ड  बैंक खाते से लिंक है और आपने एलपीजी गैस कनेक्शन लिया हुआ है, तो आपकी सब्सिडी सीधे आपके बैंक खाते में जाएगी। ये प्रक्रिया DBT ( Direct Benefit Transfer  के तहत होता है।

गरीब लोग प्रधानमंत्री आवास विकास योजना द्वारा फ्री मे स्वयं का घर कैसे बनवाए

आधार कार्ड बनवाने की पूरी प्रक्रिया    

Aadhar Card Kaise Banwaye
Aadhar Card Kaise Banwaye
  • अगर आपने अभी तक आधार कार्ड नहीं बनवाया है तो हम आपको पूरी जानकारी बताने वाले है कि आप आधार कार्ड बनवाने के लिए किस प्रकार अप्लाई कर सकते है आज के समय में आधार कार्ड बनवाना बहुत आसान हो गया है।
  • आधार कार्ड बनवाने के लिए आपको अपने नजदीकी किसी आधार सेंटर में जाना होगा।
  • वह पर आप  जिस भी व्यक्ति का आधार कार्ड बनवाना चाहते है उससे संबंधित कुछ डाक्यूमेंट्स जमा करने होंगे जिसके आधार पर आपका कार्ड अप्लाई किया जाएगा।
  • आधार कार्ड अप्लाई करते समय आपका रेटिना स्कैन ,फिंगर प्रिंट और एक फेस फोटो ली जाती है।

इसे भी जरूर पढे :- पेन कार्ड कैसे बनवाए

  • आधार कार्ड अप्लाई करवाते समय हमेशा अपना नाम पिताजी का नाम पता ,और जन्मतिथि को ध्यान से लिखवाना चाहिए ताकि बाद में किसी भी प्रकार की परेशानी न हो।
  • आधार कार्ड अप्लाई हो जाने के बाद आपको एक Acknowledgement स्लिप दी जाएगी। जिसे आपको ध्यान से अपने पास रखना होगा। जिसकी  सहायता से आप बाद में अपने आधार कार्ड का स्टेटस चेक कर सकते है और लगभग 20 से 30 दिन के बाद उस स्लिप से अपने आधार कार्ड के डुप्लीकेट कॉपी भी निकाल सकते है।
  • अगर आपका ओरिजनल आधार कार्ड डाक द्वारा नहीं आता है तो आप उस स्लिप से अपने आधार कार्ड की कलर कॉपी भी निकलवा सकते है। जो हर जगह मान्य होती है।  
  • एक बात जरूर ध्यान में रखे की आधार कार्ड एक व्यक्ति का एक ही बनता है अलग अलग एड्रेस के लिए अलग अलग आधार कार्ड नहीं हो सकते है। अगर अपने अपना रहने का स्थान बदल लिया है और आपका आधार कार्ड पुराने पते का है तो आप पुराने कार्ड मे ही बदलाव करके एड्रेस बदलवा सकते है।

इसे भी पढे :- घर तक फाइबर योजना क्या है ?

आधार कार्ड के लिए जरूरी दस्तावेज 

अगर आप अपना अपने परिवार में से किसी का भी आधार कार्ड बनवाना चाहते है ,तो आपके  पास यूजर्स की पहचान के लिए नीचे दिए गए दस्तावेजों में से कोई एक दस्तावेज जरूर होना चाहिए।

व्यक्ति का आइडेंटिटी प्रूफ 

ड्राइविंग लाइसेंसपहचान पत्र 
पैन कार्डबैंक कॉपी 
राशन कार्डपेंशन कार्ड 
फ्रीडम फाइटर कार्डपासपोर्ट
गवर्नमेंट फोटो पहचान पत्र10वी या 12 वी का स्कूल सर्टिफिकेट 

एड्रेस प्रूफ के लिए

टेलीफ़ोन लेंड लाइन बिल क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट 
बिजली का बिल पोस्ट ऑफिस बुक
इंसयोरेंस  पॉलिसी स्लिपबैंक पासबुक 
प्रॉपर्टी स्लिपराशन कार्ड 
गैस कनेक्शन बिलपानी बिल 
ड्राइविंग लाइसेंस

इसके बारे मे भी जानिए : – स्टार्टअप इंडिया स्टैंडअप इंडिया मिशन क्या है |

आधार कार्ड बनवाते समय कुछ बातों का जरूर ध्यान रखें 

आज समय मे देश के अंदर आधार कार्ड की बहुत वेलु है छोटे छोटे कामों को करवाने के लिए भी आधार कार्ड की जरूरत होती है, इसलिए आपकी आधार कार्ड की एक छोटी सी गलती आपका काम होने से रोक सकती है। इसलिए अगर आप अपना या अपने परिवार के किसी भी सदस्य का आधार कार्ड बनवाना चाहते है तो उसे बनवाते समय हमेशा कुछ जरूरी बातों का जरूर ध्यान रखें।

अगर आपकी आयु 18 वर्ष से अधिक है। आप एक विद्यार्थी है और आप अपना आधार कार्ड बनवाना चाहते है , तो आधार कार्ड आवेदन के समय वही नाम लिखवाए जो आपके स्कूली दस्तावेजों मे लिखा हुआ है ( जैसे कि नाम , पिता का नाम । जन्म तिथि , एड्रेस ) नहीं तो आगे चलकर आपको अपने दस्तावेजों को लेकर काफी परेशानी होगी इसलिए बेहतर होगा कि आप पहले से इन बातों का ध्यान रखें।  

आधार कार्ड बनवाते समय ज्यादातर लोग अपने डेटा पर सही ध्यान नहीं देते है जिसके कारण उन्हे बार बार आधार सेंटर के चक्कर लगाने पड़ते है जिसके कारण आधार बनाने वाली संस्था और लोगों का बहुत ज्यादा और पैसा खराब होता है।

इसलिए आधार कार्ड जारी करने वाली संस्था UIDAI ने ट्वीट के माध्यम से जानकारी दी है कि लोग आवेदन के समय अपने डेटा की सही जानकारी दे जिसे सुनिश्चित करने के लिए यूजर्स को एकनॉलेजमेंट स्लिप दी जाती है। अगर इसमे कुछ जानकारी गलत पाई जाती है तो तो आप आवेदन के समय ही इसे वेरीफाई कर लेते है ताकि इसमे तुरंत सुधार किया जा सके।

निष्कर्ष

दोस्तों इस लेख मे हमने आपको आधार कार्ड के बारे मे सम्पूर्ण जानकारी दी है कि किस प्रकार आप इसे आसानी से बनवाकर इसका इस्तेमाल कर सकते है इस लेख मे हमने आपको बताया है कि आधार कार्ड क्या है , aadhar card kya hai आधार कार्ड कैसे बनवाए , aadhar card kaise banwaye आधार कार्ड कैसे निकले , aadhar card kaise nikale

अगर आपको हमारी ये जानकारी पसंद आई है तो आप अपनी राय हमे कमेन्ट मे जरूर बताए और इस जनकरी को लेकर अगर आपका किसी प्रकार का सवाल है तो आप कमेन्ट करके भी पूछ सकते है और इस जानकारी को दूसरे लोगों के साथ भी शेयर करे ताकि उन्हे भी इसके बारे मे पता चल सके। धन्यवाद

Join our Subscriber lists to get the latest news,updates and special offers delivered directly in your inbox

संवदाता लाता है आपके लिए वो सारी खबरे जो प्रमुख मीडिया मे नहीं दिखती है | संवदाता आपको केंद्र और राज्य सरकारों प्राधिकरण / बोर्ड / अधिकारियों द्वारा शुरू की गई विभिन्न योजनाओं के बारे में नवीनतम जानकारी दे रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here