PM Garib Kalyan Yojana
PM Garib Kalyan Yojana
Advertisement

जब पूरे देश मे लॉकडाउन की घोषणा की गई थी ज्यादातर गरीब लोगों के ऊपर आर्थिक संकट सताने लगा था कि क्या ऐसे समय में उनके घर का खर्च चल पाएगा या नहीं। इसलिए ऐसे कठिन समय के देश के प्रधानमंत्री ने गरीब लोगों का पेट भरने के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना PM Garib Kalyan Yojana की शुरुआत की थी। ताकि देश के सभी गरीब मजदूर लोगों को भरपेट भोजन मिल सके।

आज हम आपको इस लेख में केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई इसी योजना के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देने वाले है। इस लेख मे हम आपको बताने वाले कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना क्या है और लोगों को इस योजना का लाभ किस प्रकार मिलेगा।

Advertisement


प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का विवरण

योजना का नामप्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना
इनके द्वारा शुरू की गयीप्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा
लाभार्थीदेश 80 करोड़ लाभार्थी
उद्देश्यगरीब लोगों को राशन पर सब्सिडी प्रदान की जाएगी

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना PM Garib Kalyan Yojana 2022

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा कोरोना महामारी से देश की जनता को बचाने के लिए देश मे 22 मार्च 2020 को जनता कर्फ्यू की घोषणा की गई थी। तब से ही देश मे लॉकडाउन शुरू हो गया था। जो कि पहले एक वीक के लगा फिर बढ़कर 40 दिन का हो गया ऐसे ही बढ़ते बढ़ते लॉकडाउन अनिश्चितकल के लिए लग गया गया था।

पूरे देश मे लॉकडाउन लगने की वजह से रोजना की दिहाड़ी मजदूरी से अपना पेट भरने वाले लोगों को काफी परेशानी होने लगी थी। उनकी इसी परेशानी को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 26 मार्च 2020 को गरीब कल्याण अन्न योजना की घोषणा की थी इस योजना के तहत देश के 80 करोड़ लोगों का पेट भरने का लक्ष्य रखा गया था।

इस योजना के तहत सरकार ने पहले अप्रेल मई जून माह मे प्रत्येक परिवार को फ्री मे राशन देने की घोषणा की थी। उसके बाद इस योजना को आगे बढ़ाकर नवंबर तक कर दिया था। ऐसे इसलिए किया गया क्योंकि इस समय देश के रोजगार की काफी कमी थी जिसके कारण लोगों को समय पर रोजगार नहीं मिल पा रहा था।

योजना के तहत गरीबों को दिया जाने वाला राशन

  • प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण अन्‍न योजना PM Garib Kalyan Yojana के तहत दिया जाने वाला राशन मे परिवार के प्रत्येक सदस्य को 5 किलो गेंहू और चावल और एक किलो चना मुफ़्त मे दिया जाता है। ये राशन प्रत्येक माह दिया जाता है।
  • अगर किसी परिवार को राशन पहले से भी मिलता आ रहा है तो ये राशन आपको अलग अलग से मिलेगा | यानि की ऐसे परिवार को नवंबर तक माह में दो बार मे राशन मिलेगा।
  • अभी तक बताए गए आंकड़ों के अनुसार इस योजना के तहत अप्रैल में 93% , मई में 91% और जून में 71% लाभार्थियों को लाभ मिल चुका है।

इसे भी जरूर पढे :- पीएम सुनिधि योजना क्या है |

  • इस योजना को पूरा करने के लिए राज्यों ने अभी तक 116 लाख मीट्रिक टन अनाज केंद्र सरकार से लिया है। इस योजना को सफल बनाने के लिए सरकार ने 90 हजार करोड़ रुपये का बजट पारित किया था, लेकिन जब इस योजना की अवधि बढ़ाई गई तो बजट भी बढ़ाना पड़ा अब बताया जा रहा है कि इस योजना मे लगभग डेढ़ लाख करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है।

योजना से जुड़ी कुछ अहम बाते

  • इस योजना का लाभ उन लोगों को भी मिलेगा जो हेल्थ से जुड़ी समस्याओ मे अपनी सेवाये देकर लोगों की जान बचा रहे है ऐसे मे सरकार उन लोगों को भी इस योजना के तहत 50 लाख का हेल्थ इंसयोरेंस प्रदान कर रही है।
  • देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से जानकारी दी है कि इस योजना के तहत देश के किसानों, मनरेगा मजदूर, गरीब विधवा, गरीब दिव्यांग और गरीब पेंशनधारक, जनधन योजना, उज्ज्वला के लाभार्थी, स्वयं सहायता समूह की महिलाएं, संगठित क्षेत्र के कर्मचारी और निर्माण में काम कर रहे लोगों को इस इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • इसी योजना के तहत 2.82 करोड़ लोगों को 1405 करोड़ रुपये की पेंशन भेजी गई है। इस योजना मे विधवा पेंशन, वरिष्ठ नागरिक और दिव्यांगों को पेंशन की रकम मिलेगी।

इसे भी जरूर पढे : – प्रधानमंत्री कुसुम योजना

  • इस योजना के तहत मिलने वाली पेंशन बुजुर्गों, दिव्यांगों और विधवाओं को दो किस्तों में तीन महीने तक 1000 रुपये अतिरिक्त राशि के साथ दिए जाएंगे। जिसका लाभ तीन करोड़ लोगों को लाभ प्रदान किया जायेगा।
  • इस योजना मे उज्ज्वला योजना के तहत ज्यादा गरीब रेखा से नीचे वाले लोगों को तीन महीने तक मुफ्त सिलेंडर दिए जाएंगे। जिसका फायदा लगभग 8 करोड़ लोगों को मिलेगा।
  • क्योंकि यह योजना गरीबों की मदद करने के लिए शुरू की गई है इसलिए इस योजना को गरीब स्तर की कई योजनों से भी जोड़ा गया है ताकि लोगों को आसानी से मदद मिल सके प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत महिला जनधन खाताधारकों को तीन माह तक 500 रुपये प्रति माह भेजे जाएंगे। जिसका फायदा लगभग देश की 20 करोड़ महिलाओ को मिलेगा |

इसे भी पढे :- पीएम वाणी योजना क्या है

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण की कुछ महत्वपूर्ण घोषणाएं

जब सरकार ने एक दूसरे लोगों को नजदीक रहने के लिए पाबंदी लगा रखी है क्योंकि किसी को कोरोना न हो ऐसे मे हेल्थ से जुड़े कर्मचारी लोगों का इलाज करने के लिए काफी मेहनत कर रहे है। जिसके कारण उन्हे भी कोरोना होने का खतरा लगातार बना रहता है।

ऐसे मे सरकार ने उन लोगों की पारिवारिक सुरक्षा के लिए 50 लाख रुपये के बीमे की सुविधा उपलब्ध कराई है, ताकि अगर किसी हेल्थ कर्मचारी को किसी प्रकार की कोरोना संबंधी समस्या हो जाती है, तो उस पैसे से उनके परिवार का खर्च चल सके।

इसे भी पढे :- विवाद से विश्वास योजना क्या है |

देश के वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने देश में चल रहे हालातों को ध्यान मे रखते हुए देश के बुजुर्गों , दिव्यांगों के लिए आने वाले 3 महीनों तक 1000 की अतिरिक्त पेंशन देने की घोषणा की है। लोगों को यह लाभ की राशि डीबीटी यानि कि डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत लगभग तीन करोड़ लोगों को फायदा मिलेगा।

इसे भी पढे : – गरीब लोगों का पेट भरने के लिए सरकार ने शुरू की इंदिरा रसोई योजना


महिला स्वयं सहायता समूह के अंतर्गत कार्यरत महिलाओं को लाभ देने के लिए भारत सरकार ने दीनदयाल योजना के अंतर्गत संशोधन करते हुए अब ₹20 लाख तक का लोन देने की घोषणा की है। शुरुआत में यह राशि 10 लाख रुपये तक थी। इसके अलावा आने वाले तीन माह तक सरकार महिलाओं के जनधन खाते में 500 रुपये प्रति तक जमा करेगी।

निष्कर्ष

इस लेख में हमने आपको सरकार द्वारा लॉक डाउन मे गरीब लोगों का पेट भरने के लिए शुरू की गई। योजना के बारे मे बताया है। अगर आपको हमारी ये जानकारी पसंद आई है तो आप अपनी राय हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं और इस जानकारी को दूसरे लोगों के साथ भी जरूर शेयर करे ताकि उन्हे भी इस योजना के बारे मे जानकारी मिल सके धन्यवाद

Join our Subscriber lists to get the latest news,updates and special offers delivered directly in your inbox

संवदाता लाता है आपके लिए वो सारी खबरे जो प्रमुख मीडिया मे नहीं दिखती है | संवदाता आपको केंद्र और राज्य सरकारों प्राधिकरण / बोर्ड / अधिकारियों द्वारा शुरू की गई विभिन्न योजनाओं के बारे में नवीनतम जानकारी दे रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here