Kisan Kalyan Yojana
Kisan Kalyan Yojana
Advertisement

उत्तर प्रदेश मे किसानों को खेती करने के लिए उन्नतशील बीज, उर्वरक व पानी की सुविधा देना और फसलों के सही दाम दिलाना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। जिसके कारण सरकार वर्ष 2022 तक किसानों की ये को दुगनी करने के लिए एक नई योजना तैयार की है।

जिसका नाम है किसान कल्याण योजना इस लेख मे हम आपको उसी योजना के बारे मे सम्पूर्ण जानकारी देने वाले है। अगर आप भी इस योजना के बारे मे पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो इस लेख को अंत तक पढे इस लेख मे हम आपको बताने वाले है कि किसान कल्याण योजना क्या है।

Advertisement

योजना का सम्पूर्ण विवरण

योजना का नामयूपी किसान कल्याण मिशन
किसके द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा
लॉन्च की तारीख 6 जनवरी 2021
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के किसान
योजना का उद्देश्यकिसानो की आय को दोगुनी करना


जब लॉकडाउन के कारण पूरा देश थम गया था तो राज्य सरकारों ने कृषि को प्रभावित नहीं होने दिया था ताकि किसानों की फसल खराब न हो जिसके कारण उन्हे आर्थिक तंगी का सामना न करना पढे।

कृषि निवेश मे किसानों को देय अनुदान डीबीटी के माध्यम से भुगतान करने वाला उत्तर प्रदेश देश का प्रथम राज्य है। इसके अलावा किसानों के लिए बाजार को व्यापक बनाने के लिए मंडी अधिनियम में बदलाव करने वाला प्रथम राज्य भी उत्तर प्रदेश है।

किसान कल्याण योजना Kisan Kalyan Yojana 2022

किसान कल्याण योजना Kisan Kalyan Yojana के माध्यम से राज्य सरकार ब्लॉक स्तर पर कृषि मेले लगाएगी। जिसमे उत्तर प्रदेश के 824 विकास खंडों में 6 जनवरी से 21 जनवरी तक कर्षी मेले चलाये जायेंगे। इन कर्षी मेलों मे सरकार किसान उपयोगी प्रदर्शन, कृषि मेले, वैज्ञानिक वार्ता और प्रगतिशील किसानों को सम्मानित भी करेगी।

मेले मे कृषि आधारित गतिविधियां जैसे पशुपालन, बागवानी , सिंचाई , उर्वरक , इत्यादि समस्याओ को शामिल किया गया है।

इस योजना के माध्यम से किसान केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 201 मे शुरू की गई योजना प्रधानमंत्री किसान

सम्मान निधि का भी लाभ ले सकते है। इसके लिए लिए किसानों को दस्तावेज या फार्म संबंधी समस्याओं का समाधान करने के लिए अलग से शिविर लगाए जाएंगे।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना है कि वे पीएम मोदी के अपने को पूरा कर रहे है, जो उन्होंने कहा था कि वे 2022 तक किसानों की आय दोगुनी हो जाएगी।

जब हमारे देश का अन्नदाता खुशहाल होगा तो हमारा देश स्वयं खुशहाल हो जाएगा।

अन्नदाता की खुशहाली सर्वोच्च प्राथमिकता

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने अपनी पहली ही बैटक मे सीमित संसाधनों से 86 लाख किसानों का 36,000 करोड़ रुपये के कर्ज पर एक बड़ा निर्णय लिया क्योंकि इस योजना को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से भी जोड़ा गया है, तो इस योजना के तहत लगभग 2.10 करोड़ किसानों के बैंक खातों में 28,443 करोड़ रुपये भेजे गए है।

इसे भी जरूर पढे : प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए यंहा पर क्लिक करे

प्रधानमंत्री मानधन योजना के तहत लाभार्थियों को कार्ड उपलब्ध कराना हो या फिर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत 1.62 करोड़ किसानों को खरीफ एवं रबी में फसल बीमा के तहत 1,389 करोड़ की क्षतिपूर्ति उपलब्ध करना इन सभी योजनाओ का शत प्रतिशत लाभ राज्य सरकार किसानों तक पहुचा रह है | किसनों के लिए शुरू की गई इन सभी योजनाओ का उद्देश्य किसानों को पूर्ण रूप से आत्मनिर्भर बनाना है।

किसान कल्याण मिशन के फायदे

  • इस योजना के बारे मे ज्यादा से ज्यादा किसानों को जागरूक करने और उसका लाभ देने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार किसानों के लिए 824 विकास खंडों में कृषि कार्यक्रम आयोजित करेगी।
  • इस योजना के माध्यम से कृषि आधारित गतिविधियों के बारे मे जानकारी दी जाएगी जैसे कि पशुपालन, बागवानी उर्वरक इत्यादि आदि भी शामिल की गई हैं।इस योजना के द्वारा आयोजित होने वाले विकास खंड मेलों मे उन किसानों को भी सम्मानित किया जाएगा जिन्होंने कृषि के क्षेत्र में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

इसे भी पढे :- प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना क्या है

  • इस योजना के माध्यम से तीन चरण 6 जनवरी से लेकर 21 जनवरी तक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे | इस योजना पहला चरण 6 जनवरी दूसरा 13 जनवरी को और अंतिम चरण 21 जनवरी को आयोजित किया जाएगा।
  • 6 जनवरी को आयोजित होने वाले कार्यक्रम मे किसान उत्पादन संगठन ( FPO ) और महिलाओं को स्वयं सहायता समूह के जरिए कार्यक्रम मे जुड़कर सरकारी योजनाओं के बारे मे जानकारी लेने के लिए आमंत्रित किया गया है ताकि वे इसका लाभ ले सके।

इसे भी पढे : – ग्राम उदय से भारत उदय क्या है |


आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • उत्तर प्रदेश किसान कल्याण योजना Up Kisan Kalyan Yojanaका लाभ केवल वही किसान ले सकेंगे जो उत्तर प्रदेश के स्थायी निवासी है।
  • योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक का आधार कार्ड होना आवश्यक है।
  • आवेदक का निवास प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • आवेदक के पास पहचान पत्र भी होना चाहिए।
  • आवेदन के समय रजिस्ट्रेशन करते समय एक मोबाइल नंबर और पासपोर्ट साइज फोटो की भी जरूरत होगी।

इसे भी पढे :- मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड योजना क्या है ?

यूपी किसान कल्याण मिशन 2021 में आवेदन कैसे करे ?

  • उत्तर प्रदेश का जो भी Kisan Kalyan Yojana 2021 का लाभ लेना चाहता है तो उसे सबसे पहले कृषि विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • साइट्स खुलने के बाद आपके सामने एक होम पेज ओपन होगा यहा पर आपको उत्तर प्रदेश किसान कल्याण मिशन का ऑनलाइन आवेदन करने का विकल्प दिखाई देगा।
  • आपको इस विकल्प पर क्लिक करना है जैसे ही आप इस विकल्प पर क्लिक करोगे तो आपके सामने एक फार्म ओपन होगा जिसमे आपको आवेदक से जुड़ी सभी जानकारी भरकर आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड करके अंत मे सबमिट करना होगा
  • अगर आप ऑनलाइन आवेदन नहीं करना चाहते है तो आप कृषि विभाग में जाकर भी आवेदन कर सकते है।

इसे भी पढे :- प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना

निष्कर्ष

इस लेख मे हमने आपको उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा किसानों की आय को दोगुनी करने के लिए शुरु की गई योजना के बारे मे सम्पूर्ण जानकारी दी है, ताकि उत्तर प्रदेश के ज्यादा से ज्यादा किसान इस योजना का लाभ ले सके।

इस लेख मे हमने आपको बताया है कि किसान कल्याण योजना क्या है Kisan Kalyan Yojana Kya Hai और इस योजना से किसानों को किस प्रकार लाभ मिलेगा। अगर आपको संवदाता के द्वारा दी गई ये जानकारी पसंद आई है, तो आप अपनी राय हमें कमेंट बॉक्स मे जरूर बताएं।

इस योजन के बारे मे भी जानकारी प्राप्त करे। ऑपरेशन ग्रीन्स मिशन क्या है ?

अगर इस योजना को लेकर आपका किसी प्रकार का सवाल है,, तो आप हमसे कमेंट बॉक्स मे पूछ सकते है और इस जानकारी को दूसरे लोगों के साथ भी शेयर करे ताकि उन्हे भी इसका लाभ मिल सके धन्यवाद।

Join our Subscriber lists to get the latest news,updates and special offers delivered directly in your inbox

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here