Aatmnirbhar Bharat Abhiyan : आत्मनिर्भर भारत अभियान क्या है ?

आत्मनिर्भर भारत अभियान
आत्मनिर्भर भारत अभियान
Advertisement

भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 12 मई 2020 को आत्मनिर्भर भारत अभियान की शुरुआत की इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि देश के 130 करोड़ लोगो मिलकर देश को इतना मजबूत बनाये की हमे दूसरे देशो के प्रोडक्ट पर निर्भर न रहना पड़े हम अपने देश में ही इतना रोज़गार पैदा करे कि हमारे नागरिकों को रोजगार की तलाश में दूसरे देशो में न जाना पड़े ! जिससे देश  अर्थव्यवस्था भी बेहतर होगी |

Table of Contents

Advertisement

आत्मनिर्भर भारत अभियान राहत पैकेज की महत्वपूर्ण जानकारी

योजना का नामआत्मनिर्भर भारत अभियान
किसके द्वारा आरंभ की गईप्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी
योजना का प्रकारकेंद्र सरकार
लाभार्थीदेश का प्रत्येक नागरिक
उद्देश्यसमृद्ध और संपन्न भारत निर्माण
आरंभ की तिथि12 मई 2020
पैकेज की धनराशि20 लाख करोड़ रुपए
ऑफिशियल वेबसाइट यहा पर क्लिक करे |
aatmnirbhar bharat abhiyan

आत्मनिर्भर भारत अभियान का संक्षिप्त परिचय 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने बताया की आत्मनिर्भर भारत अभियान दुनिया की सबसे बड़ी महामारी कोविड 19 से लड़ने में हमारी मदद करेगा इसी को देखते हुए मोदी जी ने इस योजना के तहत देश के नागरिकों को 20 लाख करोड़ का आर्थिक राहत पैकेज देने की घोषणा की है जोकि देश की जीडीपी का लगभग 10% बताया जा रहा है।  

आत्मनिर्भर भारत अभियान का विवरण 

इस योजना का उद्देश्य देश के प्रत्येक नागरिक को आत्मनिर्भर बनाना है ! ताकि एक दूसरे के काम आ सके !  क्योकि कोविड 19 के कारण देश के ज्यादातर लोगो के कारोबार बंद है ! जिसकी वजह से गरीब  मजदूरों , श्रमिकों ,किसानो और छोटे उद्दोग धंधे करने वाले लोगो को काफी नुकसान हो रहा है जिसके चलते इन्हे अपने घर के खर्च चलाने में भी काफी दिक्क्त आ रही है।

इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा चुने गए लोगो की मदद की जाएगी जिससे वे अपने रोजगार शुरू करके दुसरे लोगो को भी रोजगार देने में मदद कर सके सरकार द्वारा जिन लोगो की मदद की जाएगी उनकी सूची नीचे दी गई है।

1. देश का गरीब नागरिक2. श्रमिक
3. प्रवासी मज़दूर4. पशु-पालक
5. मछुआरे6. किसान
7. संगठित क्षेत्र व असंगठित क्षेत्र के व्यक्ति8. काश्तकार
9. कुटीर उद्योग10. लघु उद्योग
11. मध्यमवर्गीय उद्योग

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए यंहा पर क्लिक करे |

आत्मनिर्भर भारत अभियान की कुछ विशेषताएं 

  • मेक इन इंडिया मिशन को बढ़ावा दिया जायगा जिससे देश के अंदर ज्यादा से ज्यादा वस्तुओ का निर्माण किया जा सके जिसके कारण देश के अंदर ही रोजगार के अवसर भी पैदा हो |
  • देश के  कृषि कार्यो में आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा जिससे कम समय में कृषि की को बढ़ाया जा सके |
  • भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 12 मई 2020 को आत्मनिर्भर भारत अभियान की शुरुआत की इस योजना का मुख्य उद्देशय यह है कि देश के 130 करोड़ लोगो मिलकर देश को इतना मजबूत बनाये की हमे दूसरे देशो के प्रोडक्ट पर निर्भर न रहना पड़े हम अपने देश में ही इतना रोजगार पैदा करे कि हमारे नागरिको को रोजगार की तलाश में दूसरे देशो में न जाना पड़े ! जिससे देश  अर्थव्यवस्था भी बेहतर होगी |
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने बताया की आत्मनिर्भर भारत अभियान दुनिया की सबसे बड़ी महामारी कोविड 19 से लड़ने में हमारी मदद करेगा इसी को देखते हुए मोदी जी ने इस योजना के तहत देश के नागरिको को 20 लाख करोड़ का आर्थिक राहत पैकेज देने की घोषणा की है जोकि देश की जीडीपी का लगभग 10% बताया जा रहा है | 
  • इस योजना का उद्देश्य देश के प्रत्येक नागरिक को आत्मनिर्भर बनाना है ताकि एक दूसरे के काम आ सके  क्योकि कोविड 19 के कारण देश के ज्यादातर लोगो के कारोबार बंद है जिसकी वजह से गरीब मजदूरों , श्रमिकों ,किसानो और छोटे उद्दोग धंधे करने वाले लोगो को काफी नुकसान हो रहा है जिसके चलते इन्हे अपने घर के खर्च चलाने में भी काफी दिक्क्त आ रही है | 

गरीब लोग प्रधानमंत्री आवास विकास योजना द्वारा फ्री मे स्वयं का घर कैसे बनवाए |

आत्मनिर्भर अभियान के तहत किन क्षेत्रों में सरकार द्वारा मदद की जाएगी |

इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा चुने गए लोगो की मदद की जाएगी जिससे वे अपने रोजगार शुरू करके दुसरे  लोगो को भी रोजगार देने में मदद कर सके सरकार द्वारा जिन लोगो की मदद की जाएगी उनकी सूची नीचे दी गई है 

1. देश का गरीब नागरिक2. श्रमिक
3. प्रवासी मज़दूर4. पशु-पालक
5. मछुआरे6. किसान
7. संगठित क्षेत्र व असंगठित क्षेत्र के व्यक्ति8. काश्तकार
9. कुटीर उद्योग10. लघु उद्योग
11. मध्यमवर्गीय उद्योग

अगर आप अटल पेंशन योजना के बारे मे जानना चाहते हैं तो इस लिंक से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं|

आत्मनिर्भर भारत अभियान का लक्ष्य 

  • आत्मनिर्भर अभियान के तहत किन क्षेत्रों में सरकार द्वारा मदद की जाएगी |
  • मेक इन इंडिया मिशन को बढ़ावा दिया जायगा जिससे देश के अंदर ज्यादा से ज्यादा वस्तुओ का निर्माण किया जा सके जिसके कारण देश के अंदर ही रोजगार के अवसर भी पैदा हो 
  • नए बिजनेस स्टार्ट अप को बढ़ावा दिया जायगा जिससे रोजगार की कमी को पूरा किया जा सके |
  • देश के  कृषि कार्यो में आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा जिससे कम समय में कृषि की को बढ़ाया जा सके |
  • निवेश के लिए दुसरो को प्रेरित करना ताकि देश के अंदर बिजनेस को बढ़ावा मिल सके और रोजगार पैदा किया जा सके ,ताकि देश वासियों को आसानी से रोजगार मिल सके |
  • देश के कृषि कार्यो में आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा जिससे कम समय में कृषि की को बढ़ाया जा सके |
  • इंफ्रास्ट्रक्चर की प्रणाली में सुधार किया जाएगा |
  • फैक्ट्रियों से जुड़े लगभग 4 करोड़ लोगो को इस योजना का लाभ मिलेगा जिससे उन्हें अपना घर खर्च चलाने में किसी भी प्रकार की कोई दिक्क्त न हो |
  • टेक्सटाइल इंडस्ट्री से जुड़े लगभग 5 करोड़ लोगो को इस योजना के तहत आर्थिक मदद की जाएगी 
  • सूक्ष्म और मध्यम उद्दोग से जुड़े लगभग 10 करोड़ लोगो को इस योजना के द्वारा आर्थिक मदद की जाएगी 
  • इस योजना के तहत देश के लगभग 10 करोड़ लोगो की मदद की जाएगी  
  • इस आत्मनिर्भर राहत पैकेज के द्वारा देश के गरीब मजदूरों कर्मचारियों के साथ साथ होटल और पर्यटन इंडस्ट्री से जुड़े लोगो को फायदा होगा 

स्किल इंडिया क्या है युवाओ को इसका लाभ कैसे मिल सकता है

आत्मनिर्भर भारत के लिए देश की ताकत

 आज हमारे पास साधन हैं, हमारे पास सामर्थ्य है, हमारे पास दुनिया का सबसे बेहतरीन टैलेंट है, हमारे पास दुनिया का सबसे बड़ा मार्केटप्लेस है हम अपने देश के अंदर अच्छी क़्वालिटी के साथ अच्छे प्रोडक्ट्स बनाकर दूसरे देशो को भी बेच सकते है जिससे देश की अर्थव्यवस्था भी सुधरी जा सकती है  हम सप्लाई चेन को और आधुनिक बनाएंगे, ये हम कर सकते हैं और हम जरूर करेंगे।

पीएम मोदी जी ने कहा कि ‘ये आर्थिक पैकेज देश के उन तमाम  श्रमिक के लिए है, और देश के उन तमाम  किसान के लिए है जो हर स्थिति, हर मौसम में देशवासियों के लिए कठिन परिश्रम करके खान-पान की व्यवस्था करते है | 

 ये आर्थिक पैकेज हमारे देश के उन तमाम मध्यम वर्ग के उद्धमी के लिए है, जो ईमानदारी से टैक्स चुकाता है ! देश के विकास में अपना योगदान देता है । ये आर्थिक पैकेज हमारे कुटीर उद्योग, गृह उद्योग, हमारे लघु-मंझोले उद्योग, हमारे MSME के लिए है, जो करोड़ों लोगों की आजीविका का साधन है, जो आत्मनिर्भर भारत के हमारे संकल्प का मजबूत आधार है।’

अब मजदूरों को रोजगार मिलन हुआ आसान मजदूरों को रोजगार देने के लिए सरकार ने शुरू कि मनेरगा योजना

देश को आत्मनिर्भर बनाने में मोदी जी के 5 पिलर:

  • Economy: एक ऐसी इकॉनॉमी जो Incremental change नहीं बल्कि Quantum Jump लाए ! हम सब को मिलकर देश की इकॉनमी 2022 तक 5 ट्रिलियन डॉलर तक बनानी है |
  • Infrastructure: एक ऐसा Infrastructure जो आधुनिक भारत का निर्माण कर सके जिसकी पहचान विदेशो तक हो ! System: हमे देश में एक ऐसे सिस्टम का निर्माण करना है जो 21 वी सदी के सपनो को साकार करने वाली टेक्नोलॉजी पर आधारित हो | 
  • Demography: दुनिया की सबसे बड़ी Democracy में हमारी Vibrant Demography हमारी ताकत है, आत्मनिर्भर भारत के लिए हमारी ऊर्जा का स्रोत है।
  • Demand: हमारी अर्थव्यवस्था में डिमांड और सप्लाई चेन का जो चक्र है, जो ताकत है, उसे पूरी क्षमता से इस्तेमाल किए जाने की जरूरत है।

निष्कर्ष

आत्मनिर्भरता, आत्मबल और आत्मविश्वास से ही संभव है। आत्मनिर्भरता, ग्लोबल सप्लाई चेन में कड़ी स्पर्धा के लिए भी देश को तैयार करती है। हम सब देश के 130 करोड़ देशवासी मिलकर देश के विकास में अपना अपना योगदान दे आज का दिया हुआ आपका योगदान देश को आत्मनिर्भर बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा आपदा को अवसर में बदलने का हुनर सीखो हर आपदा अपने साथ कोई न कोई अवसर जरूर लाती है वो हमरे नजरिये के ऊपर निर्भर है के हम क्या देखते है जैसा नजरिया हमारा खुद के प्रति होगा उसी प्रकार के अवसर हमे दिखाई देंगे | 

Join our Subscriber lists to get the latest news,updates and special offers delivered directly in your inbox

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here