कौशल भारत कुशल भारत योजना योजना
कौशल भारत कुशल भारत योजना योजना
Advertisement

स्किल इंडिया Skill India की शुरुआत देश के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा शुरू की गई है जिसका मुख्य उद्देश्य देश के सभी युवाओं को ज्यादा से ज्यादा डेवलेप करना है ताकि उन्हे आसानी से रोज़गार मिल सके।

अगर आप भी इस योजना के बारे मे संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते है , तो इस लेख को अंत तक ज़रूर पढे क्योंकि इस लेख मे हम आपको बताने वाले है कि स्किल इंडिया योजना क्या है Skill India Yojna Kya Hai और विधार्थी स्किल इंडिया योजना का लाभ कैसे ले सकते है | अगर आप एक विधार्थी तो इस लेख को अंत तक जरूर पढे ताकि आप इसका फायदा उठा सके।

Advertisement

कौशल भारत (Skill India) से जुड़ी कुछ मुख्य बातें इस प्रकार हैं-

क्र. सं बिंदुमुख्य बातें
1योजना का नामकौशल भारत (Skill Indian)
2योजना क्षेत्रकौशल विकास
3योजना लोंच तारीख15 जुलाई 2015
4योजना लोंच की गईप्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा
5प्रबंधक मंत्रालयकौशल विकास मंत्रालय एवं इंटरप्रेंयूर्शिप (Entrepreneurship)
6योजना प्रमुखराजीव प्रताप रूडी

कौशल भारत योजना Skill India Yojna

स्किल इंडिया अभियान की शुरुआत 15 जुलाई 2015 को अन्तर्राष्ट्रीय युवा कौशल दिवस पर MSDE ( Ministry of Skill Development and Entrepreneurship ) के द्वारा की गई थी। इस अभियान का मुख्य उद्द्देश्य देश के उन युवाओ के लिए अवसर पैदा करना है जो अपने अंदर मौजूद किसी भी स्किल के जरिये रोजगार प्राप्त कर सके।

इस अभियान की शुरुआत  देश के विभिन्न शहरो और गावों में की गई है ताकि गावों से  विद्द्यार्थी भी समय के साथ खुद स्वयं में बदलाव कर सके। इस अभियान का उद्देश्य 2022 तक देश के लगभग 40 करोड़ युवाओ को अपनी पसंद के करियर में प्रशिक्षित कर उन्हें रोजगार प्रदान  करना है।   

यह योजना किसके द्वारा और क्यों लाई गई

वर्तमान प्रधानमंत्री “श्री नरेंद्र मोदी जी” ने  बहुत सी योजनाओं को शुरुआत की  जैसे “डिजिटल इंडिया”, मेक इन इंडिया. इन सभी योजनाओं को शुरू करने का उनका एकमात्र उद्देश्य  देश को विकास की ओर अग्रसर करना है।

ताकि देश विकास के मामलो में  दूसरे देशों से पीछे न रहे. इसलिए उन्होंने मेक इन इंडिया , डिजिटल इंडिया ,की तर्ज पर ही देश के युवाओ को प्रशिक्षित करने के लिए स्किल इंडिया अभियान की शुरुआत की इस अभियान का मुख्य उद्देश्य देश के उन सभी युवाओं की स्किल को प्रशिक्षित करके  रोजगार के अवसर पैदा करना है ! जहाँ कई सालों से विकास नहीं हुआ है।

कौशल भारत योजना के अंतर्गत चार अन्य योजनाएँ जोड़ी गई 

  • कौशल विकास और उद्यमिता के लिए राष्ट्रीय नीति (National Policy for Skill Development and Entrepreneurship )
  • राष्ट्रीय कौशल विकास मिशन (National Skill Development Mission)
  • प्रधान मंत्री कौशल विकास योजना (Prime Minister Skill Development Scheme)
  • कौशल ऋण योजना (Skill Loan Scheme )
  • ग्रामीण भारत कौशल (Rural India Skill )
  • इन सभी योजनाओ का एक ही प्रतीक चिन्ह और एक ही टैग लाइन है “कौशल भारत – कुशल भारत” .

कौशल भारत योजना का मुख्य लक्ष्य

  • कौशल भारत मिशन का मुख्य उद्द्देश्य गरीब बच्चो व पढाई से वंचित बच्चो को प्रशिक्षित कर रोजगार मुहैया कराना है ताकि देश में बेरोजगारी की समस्या दूर हो सके।
  • इस कौशल भारत मिशन के द्वारा युवाओ में कम्युनिकेशन स्किल के माध्यम से आत्मविश्वास पैदा करना है ताकि उनकी उत्पादकता में बढ़ोत्तरी हो सके।
  •  इस योजना को सफल बनाने के लिए सरकारी निजी और गैर सरकारी संसथान के आलावा दूसरी बाहरी शिक्षा संस्थाने भी मिलकर कार्य करेगी।
  • कौशल भारत मिशन के द्वारा युवाओ के अंदर छिपे हुए टैलेंट को बढ़ावा मिलेगा जिससे बेरोजगारी की दर कम हो सकती है 
  • इस योजना के द्वारा उन युवाओ को भी फायदा मिलेगा जिनके पास डिग्री होने के बावजूद भी रोजगार नहीं है।
  • कौशल भारत मिशन के द्वारा 40 करोड़ युवाओ को प्रशिक्षित कर रोजगार दिया जायगा इससे देश की प्रति व्यक्ति आय में भी बढ़ोत्तरी होगी।
  • लोगो को रोजगार  मिलने से उनके खान पान भी अच्छे होंगे  इससे उनकी सेहत में में भी सुधार आएगा।

भी जरूर पढे : उज्ज्वला योजना के बारे में जांनने के लिए यंहा पर क्लिक करे

कौशल भारत की विशेषताएँ :

  • इस योजना के तहत देश के युवाओ  को इस प्रकार प्रशिक्षित किया जायगा जिससे ही रोजगार आसानी से मिल जाये या वे खुद का व्यापार प्रस्थापित कर सकें और दूसरे युवाओ को भी रोजगार प्रदान कर सके।
  • इस अभियान के तहत पलम्बर ,इलेक्ट्रीशियन, फैशन डिजाइनर , सोलर प्लांट , कंप्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर , मार्केटिंग स्किल , बढ़ाई , मोची, लौहार, नर्स लेब टेक्निशन , इत्यादि जैसे परंपरागत रोजगार के लिए प्रशिक्षण ,दिया जाएगा ताकि आपको आसानी से जॉब मिल सके या आप इन कार्यो से सम्बंधित अपना बिजनेस शुरू कर सके।
  • रियल एस्टेट, परिवहन, कंस्ट्रक्शन , गहनों के उध्योग, बैंकिंग, पर्यटन और कई ऐसे क्षेत्र जिसमे विद्यार्थी बहुत कम ध्यान देते है इसलिए इन क्षेत्रों में युवाओ को प्रेरित करके प्रशिक्षित किया जायगा |

इसे भी पढे :- दीनदयाल उपाध्याय कौशल्य ग्रामीण योजना के बारे मे भी जानकारी प्राप्त करे।

  • इस योजना में प्रशिक्षण की गुणवत्ता अंतर्राष्टीय स्तर की  होगी, जिससे हमारे देश के युवा सिर्फ देश में ही नहीं दूसरे देशो में भी रोजगार प्राप्त कर सके जैसे की।
  • यु एस।, जपान, चीन, जर्मनी, रशिया, और पश्चिम एशिया।
  • एक और चीज़ इस मुहिम के बारे में खास है। “ग्रामीण भारत कौशल”! इस से पुरे भारत में दी जाने वाले प्रशिक्षण एक समान और अनुरूप बनाया जायेगा।
  • मूल भाषा,उम्र और जरूरत के अनुरूप योजनाएँ शुरू की जाएगी जिसमे भाषा, बातचीत के तरीके, प्रबंधन, व्यवहार, नौकरी या व्यवसाय के लिए प्रशिक्षण दिया जायेगा।
  • लोगो को सिखाने के लिए खेल, सामूहिक चर्चा, व्यवहारिक अनुभव और कई सारे नए तरीके अपनाए जायेंगे।

भी जरूर पढे : प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए यंहा पर क्लिक करे

कौशल भारत की शुरुआत क्यों की गई

सरकार द्वारा शुरू की गई पुरानी योजनाओ में सिर्फ कुछ चुनिंदा व्यवसायों पर ही ध्यान दिया गया है लेकिन इस योजना में छोटे व्यवसाय से लेकर  बड़े व्यवसाय तक सभी पर ध्यान दिया गया की कैसे आप किसी भी छोटे काम को प्रोफेशनल तरीके से कर सकते है।

हमारे देश की जनसंख्या बहुत अधिक होने के कारण यहां पर बेरोजगारी की दर अधिक रहती है, इसलिए ज्यादातर  युवा कम आयु में ही छोटे मोटे कामो को करके अपना जीवन यापन चलाते है इसी को देखते हुए सरकार कौशल भारत वाली योजना लेकर आई है कि कोई भी छोटा या बड़ा नहीं होता हर वो कार्य अपने आप में बड़ा होता है।

जिससे किसी का पेट पलता हो अगर इन सभी युवाओ को  सही प्रशिक्षण दिया जाए और इन्हे सही राह दिखाई जाए तो ये सभी युवा देश के विकास में अपना अहम योगदान दे सकते है।  “कौशल भारत” इस दिशा में लिया गया बहुत बड़ा कदम है।

कौशल भारत योजना की मुख्य चुनौतियां

  • कौशल भारत मिशन के तहत 2022 तक लगभग 40 करोड़ लोगों को प्रशिक्षित करके उन्हें रोजगार देने का लक्ष्य है 
  •  PMKVY प्रधान मंत्री कौशल विकास योजना में कंस्ट्रक्शन, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं हार्डवेयर, फूड प्रोसेसिंग,फर्नीचर और फिटिंग, हैंडीक्रॉफ्ट, जेम्स एवं ज्वेलरी और लेदर टेक्नोलॉजी,कंप्यूटर ,पलम्बर  जैसे करीब 40 तकनीकी क्षेत्र दिये गए हैं. इसके तहत चार साल (2016-20) में लगभग एक करोड़ युवाओं को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य था. लेकिन अभी तक तक़रीबन  50 लाख युवाओं को ही प्रशिक्षित किया चूका है।

इसे भी जरूर पढे : गोल्ड लोन क्या है ? इसका फायदा कैसे ले ?

  •  कौशल भारत मिशन के लिए 12,000 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया गया.जिसका उपयोग युवाओ को प्रशिक्षित करने में किया जाएगा।
  • कौशल भारत मिशन के तहत पूरे देश मे करीब करीब 3000 से भी ज्यादा सेन्टर खोले जा चुके है ! बहुत से लोगों ने अपनी नौकरी छोड़कर कौशल भारत सेन्टर खोलने में पैसा लगाया है ! लेकिन सरकार द्वारा कौशल भारत की पॉलिसी में बार-बार बदलाव होने के कारण बहुत से सेंटर भी बंद हो गए हैं।
  • कौशल भारत सेंटर से प्रशिक्षित होने वाले युवाओं में करीब 57 फीसदी का ही प्लेसमेंट हो पाया है.! ऐसे में विद्यार्थियों की तरफ से ये बात भी सामने आई है की बहुत से सेंटर अपने फायदे के लिए बच्चो को ट्रेनिंग सही प्रकार से नहीं दे  पा रहे है जिसकी वजह से उन्हें रोजगार मिलने में परेशानी हो रही है।

इसे भी पढे :- सरकार अब देगी युवाओ को बिजनेस करने की ट्रेनिंग

PMKVY प्रधानमंत्री कौशल विकास केंद्र में ट्रेनिंग लेने के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करे 

1 . प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) में आवेदक को अपना नामांकन कराना जरूरी होता है. इसके लिए स्किल इंडिया की ऑफिसियल वेबसाइट जाकर अपना नाम, पता और ईमेल आदि जानकारी भरनी होती है |

2. फार्म भरने के बाद आवेदक जिस तकनीकी क्षेत्र में ट्रेनिंग करना चाहता है उसे चुनना होगा. PMKVY में कंस्ट्रक्शन, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं हार्डवेयर, फूड प्रोसेसिंग,फर्नीचर और फिटिंग, हैंडीक्रॉफ्ट, जेम्स एवं ज्वेलरी और लेदर टेक्नोलॉजी जैसे  ..

3. PMKVY में पसंदीदा तकनीकी क्षेत्र के अलावा एक अतिरिक्त तकनीकी क्षेत्र का भी चयन करना होगा। ये जानकारियां भरने के बाद अपने ट्रेनिंग सेंटर का चयन करना होगा।

इसे भी पढे :- प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना

4. उसके बाद आप अपनी इच्छा अनुसार नजदीकी सेंटर का चुनाव कर सकते है।

निष्कर्ष

दोस्तों इस लेख मे हमने आपको स्किल इंडिया स्कीम के बारे मे संपूर्ण जानकारी दी है कि किस प्रकार से कोई भी विधार्थी इस योजना का लाभ उठा सकते है इस लेख मे हमने आपको बताया है कि स्किल इंडिया स्कीम है ,Skill india yojna kya hai Hindi अगर आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी है तो आप अपनी राय हमे कमेन्ट मे बता सकते है और इस जानकारी को दूसरों के साथ भी शेयर करे ताकि दूसरे विधार्थी भी इस योजना का लाभ उठा सकते है।

Join our Subscriber lists to get the latest news,updates and special offers delivered directly in your inbox

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here