DeenDayal Upadhyaya Gram Jyoti Yojana
DeenDayal Upadhyaya Gram Jyoti Yojana
Advertisement

देश मे अभी भी बहुत सारे ऐसे क्षेत्र है जहां पर बिजली की सुविधा उपलब्ध नहीं है। जिसके कारण सरकार देश के प्रत्येक गांवों मे बिजली पहुंचाने के लिए काफी कार्य कर रही है। इस कार्य में और तेजी लाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा एक नई योजना की शुरुआत की गई ताकि देश के ज्यादा से ज्यादा गांवों में बिजली पहुंच सके।

आज हम आपको इस लेख मे इसी योजना के बारे मे सम्पूर्ण जानकारी देने वाले है। अगर आप भी इस योजना के बारे मे पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें इस लेख मे हम आपको बताने दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना क्या है ? DeenDayal Upadhyaya Gram Jyoti Yojana  kya hai और इस योजना से देश के लोगों को क्या फायदे मिलेंगे।

Advertisement

योजना का विवरण

योजना का नाम दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना
योजना लांच की गई भारत सरकार
लाभार्थी ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले नागरिक
उद्देश्य बिजली की सुविधा प्रदान करना
कब शुरू हुईवर्ष 2014

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना का परिचय

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना DeenDayal Upadhyaya Gram Jyoti Yojana की शुरुआत भारत के ग्रामीण इलाकों तक बिजली की आपूर्ति बढ़ाने के लिए हुई थी। इस योजना को राजीव गाँधी ग्रामीण विधुतीकरण योजना के स्थान पर लाया गया था।

इसकी शुरुआत प्रधानमंत्री जी द्वारा 20 नवम्बर 2014 को की गयी थी, ताकि देश के ग्रामीण क्षेत्रों में कृषि एवं गैर कृषि कार्यो के लिए बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित की जा सके। इस योजना में कृषि एवं गैर कृषि फीडर सुविधाओं को अलग अलग किया जायेगा। जिससे ग्रामीण क्षेत्रों में वितरण और उप परिरेषण प्रणाली को मजबूत किया जा सके।

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना की आवश्यकता क्यों है

ग्रामीण इलाकों तक बिजली पहुंचाने की योजनाएँ इससे पहले भी बहुत बनी, लेकिन सरकारों की लापरवाही, भ्रष्टाचार और सही तरह से मॉनिटरिंग न हो पाने की वजह से वो सफल न हो सकी। इससे जनता का मूल्यवान पैसा तो डूबा ही साथ में जिन लोगों को बिजली की उम्मीद थी वो भी निराश ही रह जाते थे।

देश की हालत यह थी कि सुदूर ग्रामीण इलाक़ो तक तो बिजली थी ही नही , लेकिन जहां थी वहां की व्यवस्था बहुत ही ज्यादा लचर और बेकार थी। देश के महानगरों को छोड़ दे तो कहीं भी बिजली ठीक तरह से उपलब्ध ही नहीं थी। यही कारण थे कि सरकार का ध्यान इस समस्या की और गया और दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना की शुरुआत हुई।

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना से होने वाले फायदे : -DeenDayal Upadhyaya Gram Jyoti Yojana Benfits

  • सबसे पहला फायदा तो यही होगा कि जिन गांवों तक कभी बिजली नहीं पहुंची वहां बिजली पहुँच जायेगी।
  • गावों में बिजली उपलब्ध होने से सिंचाई सुविधाएँ बेहतर होंगी।
  • जाहिर सी बात है कि अगर सिंचाई सुविधा बेहतर होगी तो फसल अच्छी होगी और कृषि उत्पादन बढ़ेगा।
  • स्वास्थ्य,शिक्षा और बैंकिंग जैसी सुविधाएँ इन पर बिजली आपूर्ति का व्यापक प्रभाव पड़ता है और गावों में बिजली होने से यकीनन इन क्षेत्रों कि सुविधाओं में सुधार होगा।
  • रेडियो,टेलीविजन,इंटरनेट और मोबाइल की पहुंच में सुधार होगा यानी ग्रामीण इलाकों में कम्युनिकेशन के क्षेत्र में सुधार होगा |
  • बिजली की वजह से सामाजिक सुरक्षा सुधरेगी।
  • बिजली की आपूर्ति के बाद ग्रामीण क्षेत्रों को विकास के व्यापक अवसर प्राप्त होंगे।
  • बिजली उद्योगों के विकास के लिए आवश्यक है और ग्रामीण इलाकों में बिजली की आपूर्ति के बाद यकीनन औद्योगिक कार्यों में वृद्धि होगी।
  • लोगों का शहरों की तरफ पलायन कम होगा क्योंकि लोगों को रोजगार के अवसर वही मिलेंगे जहाँ वे रहते है तो स्वतः ही उनका पलायन कम हो जाएगा।

दीनदयाल उपाध्याय कौशल्य ग्रामीण योजना के बारे मे भी जानकारी प्राप्त करे।

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के उद्देश्य

  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य तो सुदूर ग्रामीण इलाकों तक बिजली पहुंचाना ह।
  • योजना का लक्ष्य ग्रामीण क्षेत्रों में विद्युत का वितरण और उसकी अवधि में सुधार करना है।
  • इस योजना का उद्देश्य 1000 दिनों के भीतर 18 हजार से अधिक गैर विधुतीकृत ग्रामों का विधुतीकरण करना है।
  • बिजली की बढ़ती मांग के मुताबिक़ लोड में कमी करना भी इसका लक्ष्य है।
  • गाँव के प्रत्येक घर तक बिजली पहुँचाना
  • फीडर सेपरेशन द्वारा किसानों और अन्य उपभोक्ताओं को नियमित तौर पर बिजली की आपूर्ति करना।
  • रोजगार को लेकर गांवों से होने वाले पलायन को रोकना

इसे भी पढे : – प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के महत्वपूर्ण तथ्य : –

  • यह पूरी योजना 43,033 करोड़ रुपए की है। जिसमे भारत सरकार 33,453 करोड़ रुपए की सहायता देगी बाकी राशि राज्यों को स्वयं वहन करनी होगी।
  • इस योजना के तहत सभी प्राइवेट और राज्यों के विधुत डिस्कॉम सहायता प्राप्त करेंगे।
  • इस योजना के तहत विशेष श्रेणी के राज्यों के अलावा अन्य राज्यों को 60 %और विशेष श्रेणी के राज्यों को 85 %तक का अनुदान मिलेगा,जो विशेष स्तिथियों में बढ़कर क्रमशः 75 %और 90 %हो सकता है।

निष्कर्ष

अंत में निष्कर्ष के तौर पर हम ये कह सकते है कि ये योजना वाकई गरीबो के कल्याण के लिए है, क्योंकि 21 वी सदी के इस दौर जहां दुनिया दूसरे ग्रहों पर मानव बस्ती बसाने के बारे में सोच रही है। वहां यह सोचना भी मुश्किल है, की

इसे भी जरूर पढे : गरीब लोग प्रधानमंत्री आवास विकास योजना द्वारा फ्री मे स्वयं का घर कैसे बनवाए |

भारत में आज भी ऐसी जगह है जहां बिजली जैसी मूलभूत सुविधा ही नहीं है। यह योजना साबित करती है कि “जब जागो तभी सवेरा”, क्योंकि यह योजना भले ही देर से आयी हो लेकिन ये गरीबो के कल्याण के लिए उठाया गया सरकार का सराहनीय कदम है। हमें इसकी प्रशंसा करनी चाहिए।

इसे भी जरूर पढे : आज जानते है की हम कैसे गरीब परिवार उज्ज्वला योजना का लाभ ले सकते हैं ?

इस लेख में हमने आपको केंद्र सरकार द्वारा गरीब तक बिजली पहुंचाने के लिए शुरू की गई योजना के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी है, ताकि सभी लोगों को इस योजना के बारे में पता चल सके इस लेख में हमने आपको बताया है कि दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना क्या है , DeenDayal Upadhyaya Gram Jyoti Yojana kya hai लोगों को इस योजना का लाभ किस प्रकार मिलेगा।

अगर आपको हमारी ये जानकारी पसंद आई है तो अपनी राय हमें कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है। इस जानकारी को दूसरे लोगों के साथ भी शेयर करे, ताकि उन्हें भी इस योजना के बारे में पता चल सके।अगर इस योजना को लेकर आपका किसी प्रकार का सवाल है या सुझाव है, तो आप हमसे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है धन्यवाद।

Join our Subscriber lists to get the latest news,updates and special offers delivered directly in your inbox

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here