business blasters programme
business blasters programme
Advertisement

आज देश मे हर कोई रोजगार प्राप्त करना चाहता है लेकिन सभी को रोजगार न मिलने के कारण देश मे बेरोजगारी की दर बढ़ती जा रहा है।  इसका कारण है कि हर कोई युवा किसी सेक्टर , कंपनी मे रोजगार प्राप्त करना तो चाहता है, लेकिन रोजगार कैसे डेवलप किए जाते है इसके बारे मे कोई नहीं जानना चाहता है जिसके कारण देश मे रोजगार डेवलप करने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। 

रोजगार कैसे डेवलप किए जाते है इसकी पढ़ाई स्कूलों मे भी नहीं होती है। जिसके कारण आज के समय मे हर विधार्थी अपनी शिक्षा पूरी होने के बाद केवल एक अच्छी नौकरी की तलाश मे रहते है। 

Advertisement

छात्रों मे रोजगार डेवलप करने की स्किल को बढ़ावा देने के लिए दिल्ली सरकार ने अपने  राज्य के स्कूलों मे बिजनेस शुरू करने की बारीकियों के बारे मे छात्रों को ट्रेनिग प्रदान करने लिए एक नए प्रोग्राम की शुरुआत की है। 

जिसकी जानकारी हम आपको इस लेख मे देने वाले है कि अगर आप दिल्ली के छात्र है तो आपको इस प्रोग्राम के बारे में जरूर जानना चाहिए। ताकि आप भी इसका लाभ ले सको। इस लेख मे हम आपको बताने वाले है कि बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम क्या है Business Blasters Programme Kya Hai इस प्रोग्राम को क्या उदेश्य है। विधार्थी इस प्रोग्राम का लाभ किस प्रकार ले सकते है। 

योजना का विवरण 

प्रोग्राम का नाम बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम
किसके द्वारा शुरू किया गया अरविन्द केजरीवाल 
प्रोग्राम का राज्य दिल्ली 
प्रोग्राम के लाभार्थी  दिल्ली स्कूलों के विद्यार्थी
प्रोग्राम का उद्देश्य छात्रों को उद्यमी बनाने की ट्रेनिंग प्रदान करना 

बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम की शुरुआत 

बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम (Business Blasters Programme) की शुरुआत दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने दिल्ली के त्यागराज स्टेडियम में की। प्रोग्रामिंग लॉन्चिंग के मौके पर उनका कहना था कि देश की 5 ट्रिलियन डॉलर वाली अर्थव्यवस्था  बनाने का सपना केवल किसी प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री के कहने से पूरा नहीं होगा उसके लिए हमें देश के शिक्षा स्तर को मजबूत बनाना होगा ताकि युवाओं को अच्छी शिक्षा दी जा सके। और वे  देश कि तरक्की में अपना योगदान दे सके। 

दिल्ली सरकार ने 2019 में दिल्ली के सभी सरकारी स्कूलों में एंटरप्रेन्योरशिप माइंडसेट की ट्रेनिंग प्रदान की शुरुआत की थी। 2021 मे पायलट प्रोजेक्ट के तहत स्कूल ऑफ़ एक्सीलेंस खिचड़ीपुर से बिजनेस ब्लास्टरर्स प्रोग्राम की शुरुआत की गई। 

यह प्रोग्राम शुरुआत में केवल दिल्ली के एक हजार स्कूलों में ही शुरू किया जायेगा उसके बाद इसे दिल्ली के सभी स्कूलों में शुरू किया जाएगा। शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया का कहना है कि अगर इस प्रकार के प्रोग्राम पूरे देश के राज्यों में सही तरीके से शुरू किए जाये तो हमारा देश जल्द ही विकसित देशों की सूची मे आ जायेगा। 

बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम का उद्देश्य 

दिल्ली सरकार का इस प्रोग्राम का मुख्य उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा विद्यार्थियों को उधमी बनाने के लिए तैयार करना है। ताकि देश में नए उधमी बनकर ज्यादा से ज्यादा रोजगार डेवलप किया जा सका। 

अभी तक स्कूलों मे होने वाली पढ़ाई मे बच्चों को सिर्फ यही सिखाया जाता है कि अच्छा पढ़ोगे तो आपको अच्छी नौकरी मिलेगी कोई ये नहीं पढ़ता कि आप बड़े बिजनेसमैन बनकर दूसरों को रोजगार प्रदान करोगे। 

यही कारण है कि दिल्ली सरकार ने बदलते हुए समय को देखते हुए अपने राज्य के स्कूलों में बच्चों को उद्यमी बनाने के लिए बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम की शुरुआत की है। 

ताकि स्कूलों और कॉलेजों मे पढ़ाई करने वाले विधार्थी जॉब की मानसिकता से बहार निकलकर जॉब देने वाले बने। यदि उन्हे जॉब करने की जरूरत भी हो तो, उनमे इतनी योग्यता होनी चाहिए कि नौकरी के लिए उन्हे भीड़ मे लगना पढे नौकरी उनके पीछे खुद भागे। इससे देश में बेरोजगारी की दर को कम किया जा सकता है। इस प्रकार के प्रोग्राम की जरूरत दिल्ली ही नहीं अभी पूरे देश के राज्यों में है। 

प्रोग्राम के लाभार्थी 

दिल्ली सरकार पहले भी इस प्रकार के प्रोग्राम शुरू कर चुकी है। अब इसमें और नए बदलाव के साथ सरकार ने इसे शुरू किया है जिसके अन्तर्गत कक्षा 11 और 12 के छात्रों को प्रशिक्षण के तौर पर खुद का स्टार्टअप शुरू करने के लिए दो दो हजार रुपये दिए जाएंगे। 

बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम के तहत दिल्ली सरकार ने छात्रों के साथ सीधे 100 प्रोजेक्ट को जोड़ा है। ताकि वे अपनी पढ़ाई के साथ साथ बिजनेस से शुरू करने से जुड़ी बारीकियों को सीख सके। 

इस प्रोग्राम में हिस्सा लेने वाली छात्रों को सीधे बिजनेस संबंधी कोर्सज में भी दाखिला दिया जाएगा।  जैसे कि बीबीए एनएसयूटी  ताकि वे बिजनेस के क्षेत्र में उच्च शिक्षा भी प्रदान कर सकें। इस तरह छात्रों के उधमी बनने के रास्ते काफी आसान हो जाते है। 

कोई युवा एक अच्छा उधमी तभी बन सकता है जब वो मानसिक और आर्थिक रूप से सक्षम होगा। 

बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम के तहत शुरू किए कुछ प्रोजेक्ट 

  • डिवाइन क्रिएशन  : इसमे 2 छात्रों ने 2000 रुपये निवेश करके 24, 750 रुपये कमाए 
  • मोबी साइट : इसमे 8 छात्रों ने 8 हजार रुपए निवेश करके रीफ़रबिशद मोबाइल फोन को ठीक करवाकर कमाए 22 हजार रुपये
  • टैप एंड ड्रा : इस प्रोजेक्ट मे 5 छात्रों ने हिस्सा लेकर 5 हजार रुपये निवेश करके पेंट व स्केच बनाकर सेल करके 11, 500 रुपये कमाए
  • होम 2 क्रिएशन : इसमे दो छात्रों ने दो हजार रुपये निवेश करके मनी वेस्ट मटेरियल से हैंडीक्राफ्ट बनाकर सेल करके कमाए 95, 80
  • क्राफ्ट कॉटेज : इस प्रोजेक्ट मे दो छात्रो ने दो हजार रुपये निवेश करके कमाए चार हजार रुपये
  • हैबी नेचुरल्स : तीन छात्रों ने तीन हजार रुपये निवेश करके कमाया 3580 का प्रॉफ़िट
  • इंक फैमिली : 9 छात्रों ने 9 हजार रुपये निवेश करके अब तक कमाए चार हजार रुपये का प्रॉफ़िट
  • लोनालटस : इसमे पाँच छात्रों ने 5000 रुपये का निवेश करके अब तक कमाए 7 हजार रुपये का प्रॉफ़िट 

केंद्र , राज्य सरकार द्वारा देश के नागरिकों के लिए शुरू की जाने वाली योजनाओ के बारे मे जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे साथ जुड़े

Google NewsFollow Us
LinkedinFollow Us
FacebookFollow Us
InstagramFollow Us
TwitterFollow Us

Join our Subscriber lists to get the latest news,updates and special offers delivered directly in your inbox

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here